निर्दयी मां: रो न सके इसलिए नवजात के मुंह में ठूंसा कपड़ा, मरने के लिए खेत में फेंका, लेकिन...
X

निर्दयी मां: रो न सके इसलिए नवजात के मुंह में ठूंसा कपड़ा, मरने के लिए खेत में फेंका, लेकिन...

मामला काशीपुर का है. जहां बच्चे के रोने की आवाज बाहर ना आये इसलिए बच्चे के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया.

निर्दयी मां: रो न सके इसलिए नवजात के मुंह में ठूंसा कपड़ा, मरने के लिए खेत में फेंका, लेकिन...

सतीश कुमार/काशीपुर: मां को हमेशा भगवान का स्थान दिया गया है, लेकिन मां भी कभी अपने बच्चे को जन्म देते ही मार देगी. ऐसा कोई सपने में भी नहीं सोच सकता है. जी हां, ये सुनकर आपकी भी रूह कांप जाएगी, क्योंकि ये कोई कहानी नहीं बल्कि हकीकत है. ये घटना काशीपुर की, जहां बच्चे के पैदा होते ही बड़ी ही क्रूरता से उसकी मां ने उसे मरने के लिए छोड़ दिया. बल्कि नवजात रो न सके तो उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया, लेकिन वो कहते न जाको राखे साइंयां मार सके न कोय. इस नवजात के साथ भी यही हुआ. किसान ने बच्चे की जान बचा ली.

अगले चार दिनों तक ग्रेटर नोएडा में सभी तरह के निर्माण कार्यों पर लगा प्रतिबंध, बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए एसीईओ ने दिया आदेश

क्या है मामला
मामला काशीपुर का है. जहां बच्चे के रोने की आवाज बाहर ना आये इसलिए बच्चे के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया. बता दें बच्चे के पैदा होते ही जिसको मरने के लिए छोड़ दिया गया, उसकी किस्मत में शायद जिन्दगी का सफर बाकी था. क्योंकि कि वो बच्चा बच गया है. जहां लोग औलाद के लिए दर दर भटकते हैं कभी मंदिरों में तो कभी दरगाहों पर चादर चढ़ाते हैं, वहीं दूसरी तरफ दिल दहला देने वाली इस तरह की घटनाएं सामने आती है, तो ऊपर वाले के इन्साफ पर भी ताज्जुब होना लाजमी है. ममता को शर्मसार करने वाली इस घटना ने जहां सभी को स्तब्ध कर दिया है.

मुस्लिम युवा ने क्यों बोल दिया की आएगी तो योगी सरकार ही, देखें video

हर किसी के जहन में कई सवाल इस बच्चे के जन्म को लेकर हैं, कि आखिर क्यों और किसने इस बच्चे के साथ ऐसी क्रूरता की, बहरहाल नवजात को अब नाम देने के लिए भी कई लोग प्रयास कर रहे हैं, शायद जिसकी मौत जन्मदाताओं ने चाही, उसे बेहतर भविष्य मिल सके. बता दें एक व्यक्ति को खेत में फेंका बच्चा दिखाई दे दिया. कपड़े से लिपटा और छटपटाहट का वो दृश्य देख उस व्यक्ति ने आस पास के लोगों को बुलाया और दिखाया कि इस कपड़े में कुछ है जो हिल रहा है. जब कपड़ा हटाया गया तो सभी हैरान थे, क्योंकि कपड़े में एक नवजात शिशु लिपटा हुआ था, जिसके मुंह में कपड़ा डाल दिया गया था.

Kartik Purnima 2021: कार्तिक पूर्णिमा पर शुभ मुहूर्त में इन चीजों का करें दान, बनी रहेगी भगवान विष्णु की कृपा

फिलहाल बच्चे को लोगों ने मिलकर सरकारी अस्पताल पहुंचाया, जहां उसका इलाज चल रहा है. पुलिस ने बताया कि बच्चे की जानकारी मिलने के बाद से उसे सकुशल अस्पताल में ही रखा गया है.

WATCH LIVE TV

Trending news