बिजली देगी बड़ा करंट: UP में फिर गहरा सकता है बिजली संकट! रायबरेली NTPC में एक यूनिट ठप
X

बिजली देगी बड़ा करंट: UP में फिर गहरा सकता है बिजली संकट! रायबरेली NTPC में एक यूनिट ठप

कोयले की कमी होने के कारण एनटीपीसी (NTPC) ऊंचाहार में 210 मेगावाट क्षमता की यूनिट नंबर एक को बंद कर दिया गया है. बता दें कि 210 मेगावाट क्षमता की यूनिट नंबर दो से भी उत्पादन ठप है क्योंकि, उसकी ओवरहालिंग चल रही है.

बिजली देगी बड़ा करंट: UP में फिर गहरा सकता है बिजली संकट! रायबरेली NTPC में एक यूनिट ठप

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में लगातार तीन दिनों तक हुई बारिश ने प्रदेश में एक बार फिर बिजली के संकट (Power crisis in UP) को बढ़ा दिया है. कोयले की कमी (Coal Shortage) के कारण गांव के साथ शहर में बिजली नहीं होने पर लोग परेशान हो गए थे. हाल में ही कोयले की कमी सुधरने पर एनटीपीसी की ऊंचाहार (NTPC Unchahar) इकाई में बिजली उत्पादन पहले की तरह सामान्य होने लगा था. लेकिन, यूपी में लगातार तीन दिनों तक हुई बारिश ने विद्युत परियोजनाओं के लिए समस्या पैदा कर दी है. 

कोयले में होने लगी है कटौती 
प्रदेश में हुई मुसलाधार बारिश ने बिजली परियोजनाओं के लिए बड़ी समस्या पैदा कर दी है. जिसके कारण कोयले की आपूर्ति गड़बड़ाने पर करीब 210 मेगावाट की एक इकाई को बंद करना पड़ा. बता दें झारखंड के कोयला खदानों में कुछ दिनों पहले ही कोयले की उत्पादन में बढ़ोत्तरी हुई थी. लेकिन, बरसात ने फिर से स्थिती बिगाड़ दी है. ऊंचाहार परियोजना को हर रोज आ रही कोयले की 5 मालगाड़ियां में बारिश के चलते कटौती होने लगी है. इस कड़ी में सोमवार को चार और मंगलवार को सिर्फ तीन ही मालगाड़ी की आपूर्ति हुई है. 

ऊंचाहार में एक यूनिट किया गया बंद 
कोयले की कमी होने के कारण एनटीपीसी (NTPC) ऊंचाहार में 210 मेगावाट क्षमता की यूनिट नंबर एक को बंद कर दिया गया है. बता दें कि 210 मेगावाट क्षमता की यूनिट नंबर दो से भी उत्पादन ठप है क्योंकि, उसकी ओवरहालिंग चल रही है. जिसके कारण परियोजना में कुल 420 मेगावाट बिजली उत्पादन में कमी आ गई है. 

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने इस विषय पर चर्चा की थी. उन्होंने कहा था कि प्रदेश में त्योहारों के मौके पर बिजली की कमी नहीं होने देंगे. शहर से लेकर गांव तक हर घर में दीपावली के पर्व पर रोशनी रहेगी. सरकार पूरी कोशिश कर रही है कि जनता को बिजली की कमी नहीं होने दे. साथ ही  उन्होंने बताया कि जनता के लिए सरकार अब एनर्जी एक्सचेंज से 15-20 रुपये प्रति यूनिट तक बिजली खरीद रही है जो पहले से काफी महंगी है.

इस विषय पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Modi) ने भी कुछ दिनों पहले  बिजली मंत्री आर के सिंह और कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी के साथ बैठक की थी. जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री ने संकट की स्थिति से निपटने को लेकर किए जा रहे उपायों और आगे की कार्ययोजना की समीक्षा के साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि देश में कोयले की कोई कमी नहीं है और आने वाले दिनों में हालात सुधरने की उम्मीद है. 

WATCH LIVE TV

 

Trending news