संजय निषाद का दावा: भाजपा छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे ओपी राजभर, बोले- उनका कोई ठिकाना नहीं
X

संजय निषाद का दावा: भाजपा छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे ओपी राजभर, बोले- उनका कोई ठिकाना नहीं

संजय निषाद ने सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर को लेकर कहा कि वह भाजपा छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे. अभी 2 महीने का समय है. वह भाजपा के साथ आ जायेंगे. उनका कोई ठिकाना नहीं है, वह कब क्या कहेंगे, कहां जायेंगे. 

संजय निषाद का दावा: भाजपा छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे ओपी राजभर, बोले- उनका कोई ठिकाना नहीं

सोनभद्र: निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय सिंह निषाद आज सोनभद्र पहुंचे. भाजपा से गठबंधन के बाद पहली बार सोनभद्र आने पर उनके कार्यकर्ताओं ने सम्मान समारोह का आयोजन किया था. इसके पहले संजय निषाद ने मीडिया से बातचीत की. इस दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है, जिसने निषादों के लिये अलग मंत्रालय बनाया. 20 हजार करोड़ रुपये भी दिए. इतना ही नहीं बल्कि हमारे निषाद राज के किले को संरक्षित करने के लिये भी पैसा दिया. 

NDA को करेंगे मजबूत 
संजय निषाद ने सीट मिलने को लेकर कहा कि इस बार का चुनाव निषाद पार्टी, भारतीय जनता पार्टी नहीं लड़ रही है. बल्कि एनडीए लड़ रही है. एनडीए के द्वारा जो भी हमें सीट मिलेगी. हम उस पर जीत दिलाकर एनडीए को मजबूत करेंगे. उन्होंने आगे कहा कि जब सपा, बसपा और कांग्रेस के राज में हम पिछले 70 साल से कुचले जा रहे थे.  

ये भी पढ़ें- UP के स्कूलों के हाल: कहीं सब्जी काट रही छात्राएं, तो कहीं मेज पर टांग फैलाकर खर्राटे ले रहे मास्टर जी

राजभर वापस आ जाएंगे भाजपा के साथ 
इस दौरान संजय निषाद ने हाल ही में सपा के साथ गठबंधन करने वाले सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के बारे में भी बात की. उन्होंने कहा कि राजभर भाजपा छोड़कर कहां जाएंगे. अभी 2 महीने का समय है. वह भाजपा के साथ आ जायेंगे. उनका कोई ठिकाना नहीं है, वह कब क्या कहेंगे, कहां जायेंगे. हमारी तरह वह भी अपने समाज के लिये लडाई लड़ रहे हैं. उनके समाज की लड़ाई भाजपा लड़ रही है. राजभर अनुसूचित जाति की श्रेणी में हैं, राष्ट्रपति ने इस बात को लिख रखा है. भाजपा ने अगर आरक्षण नहीं दिया होता तो राजभर समाज के आईएएस-आईपीएस नहीं होते. इस सरकार में सभी नियुक्तियां पारदर्शी हुई हैं. 

ये भी पढ़ें- कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट: 26 नवंबर से फ्लाइट्स भरेंगी उड़ान, दिल्ली-मुंबई और कोलकाता का शेड्यूल हुआ जारी

पुलिस वालों का होना चाहिए साइको टेस्ट
वहीं, आगरा की घटना पर संजय निषाद ने कहा कि पुलिस वालों का साइको टेस्ट कर नियुक्ति की जाए. साइको टेस्ट के बाद ही पुलिस वालों को बंदूक दिया जाए. जिस तरह से शरीर के इलाज के लिए टेस्ट किया जाता है, उसी तरह समाज में कलम चलाने वाले और बंदूक चलाने वाले लोगों का साइको टेस्ट होना चाहिए. ताकि उनकी मानसिकता का पता चल सके. 

ये भी देखें- MP में क्रैश हुआ IAF का मिराज-2000 फाइटर जेट, UP में आकर गिरा मलबा-VIDEO

WATCH LIVE TV

Trending news