महंत नरेंद्र गिरी मौत मामले की जांच के लिए DSP के नेतृत्व में SIT गठित, कल आएगी पोस्टमार्टम रिपोर्ट
X

महंत नरेंद्र गिरी मौत मामले की जांच के लिए DSP के नेतृत्व में SIT गठित, कल आएगी पोस्टमार्टम रिपोर्ट

मामले की जांच के लिए DSP के नेतृत्व में एसआईटी (SIT) का गठन किया गया है, जो सुसाइड के अलावा हत्या के एंगल से भी जांच करेगी.

महंत नरेंद्र गिरी मौत मामले की जांच के लिए DSP के नेतृत्व में SIT गठित, कल आएगी पोस्टमार्टम रिपोर्ट

प्रयागराज: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri) की सोमवार (20 सितंबर) को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी. उनका शव प्रयागराज के अल्लापुर स्थित बाघंबरी मठ के कमरे में फांसी के फंदे से लटकता मिला था. पुलिस ने शुरुआती जांच में इसे खुदकुशी का मामला बताया है. हालांकि, उनकी मौत को लेकर लगातार सवाल उठ रहे हैं. कई लोग उनकी हत्या षडयंत्र के तहत करने की बात कह रहे हैं. फिलहाल मौत की वजह अभी साफ नहीं हैं. वहीं, मामले की जांच के लिए DIG प्रयागराज ने DSP के नेतृत्व में एसआईटी (SIT) का गठन किया गया है, जो सुसाइड के अलावा हत्या के एंगल से भी जांच करेगी.

कल होगा पोस्टमार्टम
प्रयागराज पहुंचे सीएम योगी ने बताया कि कल 5 सदस्यीय टीम महंत नरेंद्र गिरी के शव का पोस्टमार्टम की कार्रवाई संपन्न करेगी. उसके बाद उनके भावनाओं के अनुरूप 23 सिंतबर को श्री बाघम्बरी मठ में ही उन्हें भू समाधि जाएगी. इस बात की जानकारी अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री महंत हरि गिरी और निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत रविन्द्र पूरी ने दी है. 

ये भी पढ़ें- विवादों के स्वामी: लग्जरी कारों के शौकीन, यौन उत्पीड़न के आरोपी, खुद को घुमंतू योगी बताते हैं आनंद गिरी

दोषी को सजा जरूर मिलेगी: CM योगी 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि को प्रयागराज में उनके बाघंबरी मठ स्थित आवास पर श्रद्धांजलि दी. इस दौरान उन्होंने कहा कि कल की घटना को लेकर बहुत से साक्ष्य इकट्ठे किए गए हैं. पुलिस की एक टीम, यहां के एडीजी जोन, आईजी रेंज और डीआईजी प्रयागराज, मंडलायुक्त प्रयागराज सभी अधिकारी एकसाथ मिलकर इस काम को आगे बढ़ा रहे हैं. एक-एक घटना का पर्दाफाश होगा और दोषी को अवश्य सजा मिलेगी. 

तीन लोगों को हिरासत में लेकर की जा रही है पूछताछ 
आपको बता दें कि पुलिस को घटनास्थल से 8 पन्ने का सुसाइड नोट मिला था, जिसमें उनके शिष्य आनंद गिरी के अलावा लेटे हुए हनुमान मंदिर के मुख्य पुजारी आद्या तिवारी और उनके पुत्र संदीप तिवारी का भी नाम था. जिसके बाद पुलिस ने तीनों को हिरासत में ले लिया है और पूछताछ कर रही है. बता दें कि प्रयागराज पुलिस ने नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में एफआईआर दर्ज की है. धारा 306 के तहत ये एफआईआर दर्ज की गई है, जिसमें आनंद गिरि का भी नाम है. आनंद गिरि पर महंत नरेंद्र गिरि को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप है. 

ये भी पढ़ें- Narendra Giri Death Case: CBI जांच को लेकर HC में दाखिल हुई पत्र याचिका, मौनी महाराज ने सुनियोजित हत्या बताया

WATCH LIVE TV

Trending news