यूपी चुनाव 2022: सपा में चुनाव से पहले टिकट की होड़, एक सीट के लिए मैदान में कई दावेदार
X

यूपी चुनाव 2022: सपा में चुनाव से पहले टिकट की होड़, एक सीट के लिए मैदान में कई दावेदार

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 (UP Election 2022) को लेकर राजनीतिक दलों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. सपा (Samajwadi Party) में भी टिकट को लेकर दावेदारों के बीच होड़ शुरू हो गई है. विधानसभा की एक-एक सीट के लिए कई-कई दावेदार दिखने लगे हैं. 

यूपी चुनाव 2022: सपा में चुनाव से पहले टिकट की होड़, एक सीट के लिए मैदान में कई दावेदार

विशाल सिंह/लखनऊ: यूपी विधानसभा चुनाव 2022 (UP Election 2022) को लेकर राजनीतिक दलों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. सपा (Samajwadi Party) में भी टिकट को लेकर दावेदारों के बीच होड़ शुरू हो गई है. विधानसभा की एक-एक सीट के लिए कई-कई दावेदार दिखने लगे हैं. दावेदारों की भारी संख्या को देखते हुए सपा को एक-एक सीट के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है. 

टिकट को लेकर दावेदारों के बीच होड़ 
रिश्तों में प्रगाढ़ता लाने और बिछड़ों को गले लगाने का दौर तेज हो चला है. विधानसभावार दावेदारों की भी सक्रियता बढ़ गई है. टिकट पक्का कराने के लिए लखनऊ तक की दौड़ जारी है, तो क्षेत्र में खुद को मजबूत साबित करने की होड़ लगी है. टिकट के लिए विधानसभावार आवेदन प्रदेश नेतृत्व के पास लगातार पहुंच रहे हैं, जो पार्टी के लिए चिंता का सबब बनते जा रहे हैं, क्योकि एक-एक सीट पर कई दावेदार आवेदन कर रहे है. 

PM Modi Birthday: क्या आपने देखे हैं पीएम के ये स्टाइलिश लुक? फ्रेंच बियर्ड से लेकर क्लीन शेव देखें यहां

सहयोगी दलों से नहीं तय हुआ सीट शेयरिंग फॉर्मूला
सपा अपने सहयोगी दलों के साथ सीट शेयरिंग का फॉर्मूला अभी तक तय नहीं कर सकी है. ऐसे में लगातार दावेदार अपना आवेदन भेज रहे हैं. प्रयागराज जिले में तो तीन विधानसभा सीटों पर 23 नेताओं ने दावेदारी ठोंकी है. सबसे ज्यादा मारामारी चायल विधानसभा सीट पर है. यहां से 14 दावेदार मैदान
में हैं. इतना ही नहीं समाजवादी पार्टी में चुनाव से पहले टिकट की जंग देखने को मिल रही है, क्योंकि सिर्फ शिवपुर विधान सभा सीट से 28 दावेदार अपना आवेदन भेज चुके हैं. हालांकि, सपा के इन आवेदन पर भाजपा और कांग्रेस चुटकी ले रहे हैं.

सपा करा रही गोपनीय सर्वे
सपा इन आवेदनों के बीच दावेदारों का गोपनीय ढंग से सर्वे करा रही है. सर्वे होने के बाद हर विधानसभा में तीन-तीन नामों का पैनल तैयार किया जाएगा. इनमें से किसी एक नाम पर पार्टी मुहर लगाएगी, लेकिन सवाल ये उठता है कि जिन दावेदारों को टिकट नहीं मिल पायेगा, क्या वो पार्टी के साथ निष्ठा से रहेंगे या पाला बदल कर पार्टी से बगावत कर देंगे. 

WATCH LIVE TV

 

Trending news