गांधी परिवार के करीबी ललितेश पति त्रिपाठी ने दिया कांग्रेस से इस्तीफा, टूटा पीढ़ियों से चला आ रहा रिश्ता

कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष और विधायक रहे ललितेश पति त्रिपाठी ने अपना इस्तीफा राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेज दिया है. बताया जा रहा है कि ललितेश त्रिपाठी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की अनदेखी से नाराज थे...

गांधी परिवार के करीबी ललितेश पति त्रिपाठी ने दिया कांग्रेस से इस्तीफा, टूटा पीढ़ियों से चला आ रहा रिश्ता

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के पहले सभी पार्टियां एक दूसरे पर हमलावर हैं. इसी बीच कांग्रेस को एक बड़ा झटका लगा है. गांधी परिवार के करीबी माने जाने वाले बड़े ब्राह्मण नेता ललितेश पति त्रिपाठी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. ऐसे में ललितेश पति त्रिपाठी का कांग्रेस पार्टी से जाना एक कांग्रेस के लिए एक बड़ी चोट हो सकती है.

UP Vidhansabha Chunav 2022: सहारनपुर की देवबंद सीट पर रहा है ठाकुरों का दबदबा, जानें समीकरण

ललितेश पति त्रिपाठी के इस्तीफे से पार्टी में खलबली
कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष और विधायक रहे ललितेश पति त्रिपाठी ने अपना इस्तीफा राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेज दिया है. बताया जा रहा है कि ललितेश त्रिपाठी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की अनदेखी से नाराज थे. अब उनके रेजिग्नेशन से पार्टी में कोहराम मच गया है. क्योंकि त्रिपाठी परिवार कई दशकों से कांगेस से जुड़ा है. ललितेश के इस्तीफे से साथ कांग्रेस और त्रिपाठी परिवार की यह परंपरा टूटती नजर आ रही है.

प्रियंका गांधी की मीटिंग में शामिल हुए थे ललितेश
यूपी के मुख्यमंत्री रहे कमलापति त्रिपाठी के प्रपौत्र ललितेश पति त्रिपाठी ने कांग्रेस को अलविदा कह दिया है. सुनने में आया है कि कांग्रेस पार्टी का शीर्ष नेतृत्व ललितेश पति त्रिपाठी को खास जगह नहीं दे रहा था. बीते 10 सितंबर को यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी के लखनऊ आने पर ललितेश पति त्रिपाठी ने उनसे मुलाकात की थी. वह मड़िहान सीट से साल 2012 से साल 2017 तक विधायक रहे थे. वहीं, मौजूदा समय में वह कांद्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष थे. 

NEET सॉल्वर गैंग के सरगना PK का मिला सुराग, फ्रॉड के पैसों से बनाया आलीशान बंगला, लीं महंगी गाड़ियां

प्रियंका से मिलने के बाद भी थी नाराजगी
जानकारी मिल रही है कि ललितेश पति त्रिपाठी काफी समय से पार्टी की टॉप लीडरशिप से मिलने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन उनके साथ आम कार्यकर्ताओं जैसा व्यवहार किया जा रहा था. यह वजह थी कि ललितेश पार्टी से नाराज चल रहे थे. कई दिनों से चर्चा में रहा था कि ललितेश पार्टी का दामन छोड़ सकते हैं. लेकिन प्रियंका के लखनऊ आने पर जब वह उनसे मिले, तो इस चर्चा पर विराम लग गया. हालांकि, यह बताया जा रहा था कि जैसी मुलाकात की ललितेश पति त्रिपाठी उम्मीद कर रहे थे, वैसी मुलाकात नहीं हो सकी है. वह प्रियंका के सामने अपनी बात रखना चाहते थे, लेकिन रख नहीं सके. हो सकता है यही बात उनके रेजिग्नेशन की वजह बनी हो.

'साइकिल' की सवारी कर सकते हैं ललितेश पति त्रिपाठी
माना जा रहा है कि कांग्रेस का हाथ छोड़ने के बाद ललितेश पति त्रिपाठी अखिलेश यादव का हाथ थाम सकते हैं. कयास लगाए जा रहे हैं कि शायद वह समाजवादी पार्टी जॉइन करें. क्योंकि कांग्रेस छोड़कर सपा में शामिल होने वाली अन्नू टंडन से त्रिपठी परिवार नजदीक रहा है. 

WATCH LIVE TV