close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उत्तराखंड: देर रात फिर हुआ भूस्खलन, बागेश्वर-अल्मोड़ा का मोटर मार्ग बंद हुआ

बागेश्वर से गिरीछीना क्षेत्र की दूरी करीब 18 किलोमीटर है लेकिन रास्ता बंद होने से ग्रामीणों को कौसानी-सोमेश्वर होते हुए गिरीछीना जाना होगा. मोटर मार्ग बंद होने से सबसे अधिक परेशानी मरीजों को होनी तय है. 

उत्तराखंड: देर रात फिर हुआ भूस्खलन, बागेश्वर-अल्मोड़ा का मोटर मार्ग बंद हुआ
फाइल फोटो

बागेश्वर, संतोष फुलारा: बागेश्वर (Bageshwar) से अल्मोड़ा (Almora) जाने वाले मोटर मार्ग को भूस्खलन (Landslide) के चलते बंद कर दिया गया है. जानकारी के मुताबिक, गुरुवार (03 अक्टूबर) देर रात मोटर मार्ग पर भूस्खलन के चलते दरारें आ गईं, जिसके बाद बागेश्वर से गिरीछीना होते हुए अल्मोड़ा जाने वाला मोटर मार्ग कल देर रात पूरी तरह से बंद कर दिया है. 

मोटर मार्ग बंद होने से जिले के दो दर्जन से ज्यादा गांवों से जिला मुख्यालय का संपर्क सड़क बंद होने के चलते टूट चुका है, जबकि स्कूल जाने वाले बच्चों को आधे रास्ते से लौटने पर मजबूर होना पड़ा. रास्ता बंद होने की वजह से ग्रामीणों को बागेश्वर से गिरीछीना जाने के लिए कई किलोमीटर अधिक का रास्ता तय करना होगा.  

जानकारी के मुताबिक गुरुवार रात अचानक रोड़ का एक हिस्सा पहाड़ी से पूरी तरह अलग हो गया. सड़क के टूटने से अमरसरकोट और जौलकांडे जैसे बड़ी आबादी वाले गांवों के अलावा दो दर्जन से अधिक गांवों का संपर्क जिला मुख्यालय से टूट गया.

लाइव टीवी देखें

बागेश्वर से गिरीछीना क्षेत्र की दूरी करीब 18 किलोमीटर है लेकिन रास्ता बंद होने से ग्रामीणों को कौसानी-सोमेश्वर होते हुए गिरीछीना जाना होगा. मोटर मार्ग बंद होने से सबसे अधिक परेशानी मरीजों को होनी तय है.  मोटर मार्ग बंद होने से क्षेत्र में जरूरी चीजों की किल्लत होने लगी है.