उत्तराखंड: शिशुपाल रावत बने AAP कैंपेन कमेटी के उपाध्यक्ष, ओपी मिश्रा को मिली सचिव की जिम्मेदारी

पक बाली ने बयान जारी करते हुए कहा कि आने वाले चुनावों को देखते हुए 'आप' पूरी तैयारियों में जुट चुकी है. पार्टी द्वारा प्रदेश में कई कैंपेन अभी चल रहे हैं और आगामी दिनों में भी कई अन्य कैंपेन पार्टी द्वारा चलाए जाएंगे जिसके लिए लगातार संगठन की तैयारियां चल रही हैं. 

उत्तराखंड: शिशुपाल रावत बने AAP कैंपेन कमेटी के उपाध्यक्ष, ओपी मिश्रा को मिली सचिव की जिम्मेदारी
सांकेतिक तस्वीर.

देहरादून/काशीपुर: आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में आगामी चुनावों को देखते हुए जहां एक ओर अपने संगठन को मजबूत करने में जुटी हुई है. इसी सिलसिले में शुक्रवार को पार्टी के कैंपेन कमेटी अध्यक्ष दीपक बाली ने कैंपेन कमेटी में विस्तार करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष शिशुपाल रावत को उपाध्यक्ष नियुक्त करने के साथ ही ओपी मिश्रा को सचिव पद पर नियुक्त किया है.

इस दौरान दीपक बाली ने बयान जारी करते हुए कहा कि आने वाले चुनावों को देखते हुए 'आप' पूरी तैयारियों में जुट चुकी है. पार्टी द्वारा प्रदेश में कई कैंपेन अभी चल रहे हैं और आगामी दिनों में भी कई अन्य कैंपेन पार्टी द्वारा चलाए जाएंगे जिसके लिए लगातार संगठन की तैयारियां चल रही हैं. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी जन मुद्दों से जुड़े कैंपेन पूरे प्रदेश में चला रही है और आने वाले समय में भी चलाएगी ताकि उत्तराखंड के आम जन तक हमारी नीतियां पहुंच सकें और आने वाले चुनाव में जनता अपने मत का सही इस्तेमाल कर सके.

उन्होंने कैंपेन कमेटी में शामिल नए पदाधिकारियों को शुभकामनाएं देते हुए उम्मीद जताई कि सभी पदाधिकारी मिल जुलकर पार्टी को नई ताकत देंगे और हर कैंपेन को धरातल पर उतारेंगे. आम आदमी पार्टी कैंपेन कमेटी के अध्यक्ष दीपक बाली ने किसानों द्वारा 27 सितंबर को भारत बंद को अपना पूर्ण समर्थन देने की घोषणा की. उन्होंने उत्तराखंड के सभी पार्टी कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों से अनुरोध किया है कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में शांतिपूर्ण भारत बंद को पूर्ण समर्थन देते हुए देश के अन्नदाता किसानों का सहयोग करें.

दीपक बाली ने कहा है कि कितने शर्म की बात है कि देश का अन्नदाता पिछले करीब एक वर्ष से गर्मी, सर्दी और बरसात की मार झेलकर सड़कों पर पड़ा हुआ है. हमारे अनेक किसान आंदोलन स्थल पर ही दम तोड़ चुके हैं मगर तानाशाह मोदी सरकार किसानों की फरियाद नहीं सुन रही है. उन्होंने कहा कि जिस देश का किसान दुखी हो वह देश सुखी नहीं रह सकता. सरकार की हठधर्मिता के चलते जिस किसान को अपने खेतों में होना चाहिए था उन्हे दूसरी बार भारत बंद करना पड़ रहा है. मगर केंद्र सरकार गूंगी और बहरी बनी बैठी है. 

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में चुनी गई सरकार को सभी की बात सुननी चाहिए. मगर मोदी सरकार ने हठधर्मिता और तानाशाही के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. दीपक बाली ने कहा है कि संकट की इस घड़ी में आम आदमी पार्टी कंधे से कंधा मिलाकर किसानों के साथ शुरू से खड़ी है और आगे भी खड़ी रहेगी. उन्होंने कहा कि वह खुद 27 सितंबर के भारत बंद में शामिल होकर किसानों का साथ देंगे. उन्होंने आम जनमानस से भी भारत बंद में शांति पूर्ण सहयोग की अपील की है.

WATCH LIVE TV