कोरोना महामारी के बीच IIT BHU ने दिया हॉस्टल खाली करने का फरमान, नाराज छात्रों ने खोला मोर्चा

आईआईटी बीएचयू ने छात्रों को हॉस्टल खाली करने का फरमान जारी किया है. इस आदेश का छात्र विरोध कर रहे हैं, जानिए क्या है मामला

कोरोना महामारी के बीच IIT BHU ने दिया हॉस्टल खाली करने का फरमान, नाराज छात्रों ने खोला मोर्चा
फाइल फोटो

नवीन पांडे/वाराणसी: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच आईआईटी बीएचयू ने छात्रों को हॉस्टल खाली करने का फरमान जारी किया है. इस आदेश का छात्रों ने विरोध किया है. इस फरमान से नाराज होकर छात्रों ने संस्थान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

पीएम मोदी के संसदीय कार्यालय में खुला कोविड कंट्रोल रूम, 24 घंटे खुली रहेंगी हेल्पलाइन

दरअसल, प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना केसस को लेकर संस्थान ने छात्रों को हॉस्टल को खाली करने का निर्देश दिया है. छात्र हॉस्टल खाली करने की इस बात के लिए तैयार नहीं है. जिसके चलते बीएचयू के छात्र आंदोलन पर बैठ गए है. उन्होंने हॉस्टल में ही अपना आंदोलन शुरू कर दिया है. IIT BHU के इस फरमान का स्टूडेंट पुरजोर विरोध कर रहे हैं.

छात्रों का कहना है कि उन्हें हॉस्टल से निकलने के लिए मजबूर किया जा रहा है. आरोप है कि संस्थान मेस बंद कराकर छात्रों को प्रताड़ित किया जा रहा है. इसके अलावा छात्रों का कहना है कि संस्थान वाई-फाई की सुविधा बंद करने की धमकी दे रहा है.

शर्मसार: कोरोना से माता-पिता की मौत, शव भेजने के नाम पर अस्पताल कर्मियों ने मांगे 5 हजार रुपये

बीएचयू के स्टेडियम में एक हजार बेड का अस्थाई बेड 
उधर वाराणसी- कोरोना संक्रमण की गंभीर स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने बीएचयू के स्टेडियम में एक हजार बेड का अस्थाई बेड बनाने का निर्णय लिया है. प्रधानमंत्री कार्यालय के निर्देश पर डीआरडीओ ने पांडाल में हॉस्पिटल निर्माण का सर्वे भी शुरू कर दिया है. 15 दिनों में अत्याधुनिक मेडिकल सुविधाओं से युक्त अस्थाई अस्पताल तैयार कर लिया जाएगा.

WATCH LIVE TV