Vikas dubey: SIT जांच में सामने आ सकते हैं गैंगस्टर से जुड़े बड़े खुलासे, इनकी जा सकती है नौकरी

कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में SIT जांच कर रही है. माना जा रहा है SIT टीम को जो सबूत बिकरू गांव में मिल रहे हैं.

Vikas dubey: SIT जांच में सामने आ सकते हैं गैंगस्टर से जुड़े बड़े खुलासे, इनकी जा सकती है नौकरी
हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे (file photo)

कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में SIT जांच कर रही है. माना जा रहा है SIT टीम को जो सबूत बिकरू गांव में मिल रहे हैं. उससे इस पूरे मामले में बड़े राज बाहर आ सकते हैं. 

इस वक्त SIT की जांच के दौरान जिस पर सबसे ज्यादा तलवार लटक रही है, वो हैं विकास दुबे के लिए पुलिस की मुखबिरी करने वाले पुलिसकर्मी. सूत्रों के मुताबिक मामले में संदिग्ध भूमिका वाले पाए गए पुलिसकर्मी विनय तिवारी और केके शर्मा की गिरफ्तारी के बाद अब उन पर कड़ी कार्रवाई हो सकती है. अगर उनके खिलाफ लगाए गए चार्ज साबित हो जाते हैं, तो उन्हें पुलिस सेवा से बर्खास्त किया जा सकता है. 

UP ऑपरेशन क्लीन: मेरठ पुलिस ने मारा गिराया 50 हजार का इनामी बदमाश 

मुखबिरी के सुबूत मिलने के बाद कानपुर पुलिस ने चौबेपुर के तत्कालीन SO विनय तिवारी और हल्का इंचार्ज केके मिश्रा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. आईजी मोहित ने मामले पर बात करते हुए ये बात कही थी, कि अगर चार्ज सही साबित होते हैं, तो उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. 

WATCH LIVE TV