UP: दिनदहाड़े हत्या कर भाग रहे 3 बदमाशों को ग्रामीणों ने धर दबोचा, 2 को उतारा मौत के घाट

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि धर्मेंद्र हत्याकांड की साजिश जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे एक अपराधी ने रची.

UP: दिनदहाड़े हत्या कर भाग रहे 3 बदमाशों को ग्रामीणों ने धर दबोचा, 2 को उतारा मौत के घाट

अंबेडकर नगर: उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर में बेखौफ बदमाशों ने दिनदहाड़े एक दुकान में घुसकर टाण्डा ब्लॉक के पूर्व कनिष्ठ प्रमुख की गोली मार हत्या कर दी. घटना के बाद मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने दो बदमाशों को पकड़कर मौत के घाट उतार दिया, जबकि एक बदमाश अधमरी हालत में गन्ने की खेत ​में जा छिपा. पुलिस ने उसे पकड़कर अस्पताल में भर्ती कराया.

दिनदहाड़े हुए इस हत्याकांड की सूचना लगते ही पुलिस अधीक्षक खुद अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और हालात पर काबू पाया. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इब्राहिमपुर थाना क्षेत्र के ग्राम चिनगी निवासी धर्मेंद्र वर्मा 25 जून की दोपहर उतरेथू बाजार के एक बीज भंडार पर बैठे थे. तभी 3 असलहाधारी बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियों की बौछार कर धर्मेंद्र वर्मा हत्या कर दी.

ग्रामीणों ने हमला करने वाले बदमाशों को पकड़ लिया और पीटने लगे. एक बदमाश की मौके पर मौत हो गई, जबकि दूसरे बदमाश ने भागने की कोशिश लेकिन उसने भी दम तोड़ दिया. वहीं तीसरा बदमाश अधमरी हालत में गन्ने के खेत में जा छिपा. तक तक पुलिस पहुंच गई और बदमाश को पकड़कर अस्पताल में भर्ती कराया.

चश्मदीद ने बताया कि वह और धर्मेंद्र दोनों एक साथ बैठे थे. तभी तीन लोग पैदल आए और पूछा कि धर्मेंद्र कौन है? जब धर्मेंद्र ने अपने बारे में बताया तो बदमाशों ने पिस्टल निकालकर गोली मार दी. इस चश्मदीद ने एक बदमाश का असलहा पकड़ा, तो दूसरे बदमाश ने फायर कर दिया. गोलियों की तड़तड़ाहट सुन आस-पास के लोग भी मौके पर इकट्ठे हो गए. ग्रामीणों ने एक बदमाश को दुकान में ही पकड़ लिया, जबकि दूसरे को थोड़ी दूर पर धरदबोचा. तीसरा बदमाश ग्रामीणों से पिटने के बाद अधमरी हालत में गन्ने के खेत से मिला.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि धर्मेंद्र की हत्या की साजिश आजीवन कारावास की सजा काट रहे एक अपराधी ने रची. उसी के इशारे पर धर्मेंद्र की हत्या की गई. जिंदा पकड़े गए बदमाश अविनाश सिंह ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि जेल में बंद एक बदमाश ने उन्हें धर्मेंद्र की हत्या की सुपारी दी थी.