कन्नौज बस हादसा: डॉक्टर पर भड़के अखिलेश यादव, कहा- तुम RSS-BJP के हो सकते हो, देखें VIDEO

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव कन्नौज बस हादसे के पीड़ितों से मिलने अस्पताल पहुंचे थे. इसी दौरान वह अस्पताल के इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर डीएस मिश्रा पर भड़क गए. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है.

कन्नौज बस हादसा: डॉक्टर पर भड़के अखिलेश यादव, कहा- तुम RSS-BJP के हो सकते हो, देखें VIDEO
कन्नौज बस हादसे के घायलों से अस्पताल में मुलाकात करने पहुंचे समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की फोटो.

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव कन्नौज बस हादसे के घायलों से मिलने अस्पताल गए थे. इस दौरान वह अस्पताल में ड्यूटी पर तैनात एक डॉक्टर पर भड़क गए जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वायरल हो रहे वीडियो में अखिलेश यादव डॉक्टर से कहते हुए सुने जा रहे हैं, 'तुम मत बोलो तुम सरकारी आदमी हो. तुम सरकारी आदमी हो, हम जानते हैं क्या होती है सरकार.'

वह आगे कहते हैं, 'तुम मत बोलो, इसलिए मत बोलो क्योंकि तुम सरकार के आदमी हो. तुम्हे नहीं बोलना चाहिए कुछ भी. तुम सरकार का पक्ष नहीं ले सकते. तुम बहुत छोटे अधिकारी हो. बहुत छोटे कर्मचारी हो. आरएसएस के हो सकते हो, बीजेपी के हो सकते हो लेकिन ये बात नहीं कह सकते वो क्या कह रहा है और तुम मुझे नहीं समझा सकते. दूर हो जाओ एकदम, एकदम दूर हो जाओ. एकदम हट जाइए यहां से, भाग जाइए यहां से बाहर, बाहर भाग जाओ यहां से.'

दरअसल, अखिलेश यादव कन्नौज हादसे के घायलों और उनके परिजनों से मिलने अस्पताल पहुंचे थे. इसी दौरान हादसे में सरकार की ओर से मृतकों और घायलों को मुआवजा देने की बात आई. वीडियो में देखा और सुना जा सकता है कि अखिलेश के पीछे खड़ा डॉक्टर कहता है कि मुआवजा तो दिया जा चुका है. डॉक्टर की इसी बात पर अखिलेश भड़क जाते हैं और उससे बाहर चले जाने के लिए कहते हैं.

यहां देखें वीडियो

ये भी पढ़ें: कन्नौज बस हादसा: पीड़ितों से मिले अखिलेश यादव, कहा- सरकार आने पर दी जाएगी 20-20 लाख की मद

डॉक्टर के बाहर जाने के बाद अखिलेश वार्ड में मौजूद अन्य लोगों से उसकी पोस्ट और कहां का रहने वाला है इस बारे में पूछते हैं. एक व्यक्ति बताता है कि डॉक्टर इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर डीएस मिश्रा हैं और गोरखपुर के रहने वाले हैं, इस पर अखिलेश कहते हैं कि गोरखपुर के रहने वाले हैं, इसीलिए किसका पक्ष ले रहे हैं देखो. गौरतलब है कि गत दिनों कन्नौज में एक स्लीपर बस सामने से आ रहे ट्रक से टकरा गई थी.

टक्कर के बाद बस और ट्रक दोनों में आग लग गई थी. इस हादसे में 20 लोगों की मौत हो गई थी और 21 लोग घायल हो गए थे. वीडियो वायरल होने के बाद इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर डीएस मिश्रा से घटना के संबंध में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह परिवार के सदस्यों के उस दावे को सुधार रहे थे, जिसमें अखिलेश यादव से वे कह रहे थे कि उन्हें कोई मुआवजा नहीं मिला.

डॉक्टर डीएस मिश्रा ने कहा, 'मैं वहां पर खड़ा था, क्योंकि मैं उनका अटेंडिंग ऑफिसर था. जब मरीज के परिवार ने दावा किया कि उन्हें कोई मुआवजा नहीं मिला है तो मैंने उन्हें सही करना चाहा कि उन्हें चेक मिल गए हैं.' साथ ही उन्होंने कहा कि वह इमरजेंसी ड्यूटी पर थे फिर भी अखिलेश यादव ने उन्हें वहां से चले जाने के लिए कहा.

बता दें कि अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी ने कन्नौज बस हादसे में जाने गंवाने वालों के परिजनों को सत्ता में आने पर 20 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है. इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने बस हादसे में मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये और जख्मी लोगों को 50 हजार रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है.