close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कौशांबी : छेड़खानी से परेशान लड़की ने किया फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या का प्रयास

पुलिस से दो बार शिकायत करने के बाद भी नहीं की गई कोई कार्रवाई. छह जून की घटना.

कौशांबी : छेड़खानी से परेशान लड़की ने किया फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या का प्रयास
पुलिस की लापरवाही से नाराज युवती ने फांसी लगाने का प्रयास किया. (बीच में)

कौशांबी : उत्‍तर प्रदेश के कौशांबी में पुलिस की लापरवाही का एक मामला सामने आया है. यहां शोहदे की छेड़खानी से परेशान पीडि़ता ने पुलिस की लापरवाही से नाराज होकर एक युवती ने फांसी लगाकर जाने देने की कोशिश की. परिजनों और पड़ोसियों ने मौके पर पहुंचकर उसे बचा लिया. पीडि़ता के मुताबिक उसने शोहदे की छेड़खानी की शिकायत पुलिस में की थी. लेकिन पुलिस ने कार्रवाई तो दूर उससे पूछताछ करना भी मुनासिब नहीं समझा.

घटना कौशांबी के मंझनपुर थाना क्षेत्र में छह जून की है. यहां की रहने वाली एक युवती का आरोप है कि 6 जून की दोपहर जब उसके मां और पिता घर पर नहीं थे तब उसे अकेला पाकर गांव का ही युवक आशीष उसके घर में जबरदस्ती घुस गया. इसके बाद वह उसके साथ जोर जबरदस्ती करने लगा. इप युवती के शोर मचाने पर पड़ोसियों ने आकर उसकी आबरू बचाई. पीडि़ता ने इस घटना की लिखित शिकायत मंझनपुर पुलिस से की लेकिन पुलिस ने मुकद्दमा दर्ज करना तो दूर पीडि़ता के भी घर भी पूछताछ के लिए नहीं पहुंची. इससे आरोपी आशीष ने दोबारा पीडि़ता की इज्जत लूटने की कोशिश की. जिसकी शिकायत उसके पिता ने मंझनपुर पुलिस से दोबारा की, लेकिन पुलिस ने इस बार भी मामले पर कोई ठोस कदम नहीं उठाया.

पुलिस की लापरवाही से नाराज होकर पीडि़ता 9 जून को घर के कमरे में जान देने के लिए फांसी के फंदे पर झूल गई. फांसी के फंदे पर लटकता देख पास खड़े एक बच्चे ने शोर मचा दिया और मौके पर पहुंचे पड़ोसियों ने पीडि़ता को फंदे से उतार कर उसे अस्पताल पहुंचाया, जहां उसकी जान बचा ली गई. पीडि़ता के गले पर अब भी फांसी के फंदे के जख्म ताजा हैं. इस पूरे मामले पर मंझनपुर के कोतवाल पवन त्रिवेदी का कहना है कि एक लड़का फोन पर पीडिता से अश्लील बातें करता था जिससे परेशान होकर पीडि़ता ने आत्महत्या का प्रयास किया था. जिस बाबत मुकदमा पंजीकृत कर कानूनी कार्रवाई की जा रही है.