close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूपी: गर्भपात के दौरान हुई थी गर्लफ्रेंड की मौत, प्रेमी ने शव को लगाया था ठिकाने, गिरफ्तार

 व्यक्ति की पहचान हुसैन के रूप में हुई है. उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 304 ए के तहत मामला दर्ज किया गया है. 

यूपी: गर्भपात के दौरान हुई थी गर्लफ्रेंड की मौत, प्रेमी ने शव को लगाया था ठिकाने, गिरफ्तार
फाइल फोटो

मुजफ्फरनगर: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने सबको हैरान कर दिया है. दरअसल, गर्भवती हुई प्रेमिका का गर्भपात के दौरान मौत हो गई. प्रेमिका की मौत से घबराए प्रेमी ने उसके शव को जंगल में ठिकाने लगाया और फिर वहां से फरार हो गया. पुलिस के मुताबिक, उसे एक महिला का शव 18 सितंबर को जंगल के पास बरामद हुआ था. पुलिस ने आरोपी को मुजफ्फरनगर के कुतुबपुर गांव से गिरफ्तार कर लिया है.  

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार ने बताया कि गिरफ्तार युवक की प्रेमिका गर्भवती थी और गर्भपात के दौरान उसकी मौत हो गई. कुमार ने बताया कि व्यक्ति ने अपनी प्रेमिका का शव जंगल में फेंक दिया. व्यक्ति की पहचान हुसैन के रूप में हुई है. उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 304 ए के तहत मामला दर्ज किया गया है. 

आपको बता दें गांव कुतुबपुर में करीब डेढ़ माह पूर्व हुई आसमीन की हत्या का मामला जांच में विवाहेतर संबंध से जुड़ा पाया गया है. जिस बेटी ने उसकी हत्या के आरोप में अपने देवर समेत तीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी, उसी के जेठ से महिला के विवाहेतर संबंध थे. बेटी के जेठ से संबंधों के चलते वह गर्भवती हो गई थी, जिसके चलते लोकलाज के डर से अप्रशिक्षित दाई से गर्भपात कराते समय उसकी मौत हो गई थी. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. 

आसमीन की बेटी कौसर ने मां की हत्या का आरोप लगाते हुए अपने देवर शकील के साथ ही इस्लाम व अकरम निवासीगण कुतुबपुर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. मामले की जांच के दौरान उक्त तीनों नामजद आरोपी बेकसूर पाए गए. जांच में सामने आया कि आसमीन के उसकी बेटी कौसर के जेठ बुढ़ाना के गांव दभेड़ी निवासी हुसैन पुत्र जुल्फिकार से विवाहेतर संबंध थे. इन संबंधों के चलते महिला गर्भवती हो गई. लोकलाज के डर से उसने प्रेमी के साथ मिलकर गर्भपात कराने का निर्णय लिया. 17 सितंबर को प्रेमी हुसैन महिला को अपनी कार से एक अप्रशिक्षित दाई के पास ले गया. जहां महिला को कोई दवा दे दी, जिसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ी और उसकी मौत हो गई.