close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यमुना प्राधिकरण जमीनी घोटाला: दोबारा 14 दिन की न्यायिक हिरासत में पीसी गुप्ता

पुलिस टीम को भी मामले में कुछ और जानकारियां मिली हैं. जानकारी के मुताबिक, एफआईआर में कुछ और नाम भी शामिल किए जा सकते हैं.

यमुना प्राधिकरण जमीनी घोटाला: दोबारा 14 दिन की न्यायिक हिरासत में पीसी गुप्ता
पीसी गुप्ता समेत 22 लोगों के खिलाफ 126 करोड़ के घोटाले का केस दर्ज है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली/ग्रेटर नोएडा: यमुना प्राधिकरण में हुए 126 करोड़ के घोटाले के मुख्य आरोपी पीसी गुप्ता को अदालत ने दोबारा 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. वहीं, अब तक मामले की जांच करने वाली पुलिस टीम को भी मामले में कुछ और जानकारियां मिली हैं. जानकारी के मुताबिक, एफआईआर में कुछ और नाम भी शामिल किए जा सकते हैं. आपको बता दें कि यमुना विकास प्राधिकरण में तैनात पुलिस निरीक्षक ने पीसी गुप्ता और तहसीलदारों समेत 22 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया है. जिनके ऊपर 126 करोड़ के घोटाले में शामिल होने का आरोप है.

ये भी पढ़ें: MP के दतिया से गिरफ्तार हुआ यमुना प्राधिकरण का पूर्व CEO, 126 करोड़ के घोटाले का आरोप

दरअसल, गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने पीसी गुप्ता को मेरठ की एंटी करप्शन कोर्ट में पेश किया था. कोर्ट ने पीसी गुप्ता को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा था. इस दौरान पुलिस ने पीसी गुप्ता को दस दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ भी की थी. शुक्रवार को न्यायिक हिरासत की अवधि पूरी हो गई थी. शुक्रवार (06 जुलाई) को पीसी गुप्ता को शुक्रवार को दोबारा एंटी करप्शन न्यायालय में पेश किया गया. जहां से उसे दोबारा 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.  

इस मामले में पुलिस टीम गहनता से जांच कर रही है. जानकारी के मुताबिक, कुछ दिन पहले पीसी गुप्ता के फ्लैट पर भी जांच की गई थी. जहां जमीन घोटाले से संबंधित कुछ दस्तावेज मिले थे. इनमें से कुछ नए नामों का भी पता चला था. इन नामों में कुछ प्राधिकरण के कर्मचारी भी है. बताया जा रहा है कि इनमें कुछ ठेतेदार और उनके करीबी लोग भी है. जांच के बाद नए नाम एफआईआर में जोड़े जाएंगे. 

आपको बता दें 22 जुलाई की रात को यमुना विकास प्राधिकरण के पूर्व सीईओ पीसी गुप्ता को मध्य प्रदेश के दतिया जिले से गिरफ्तार कर लिया गया है. पीसी गुप्ता की गिरफ्तारी मध्य प्रदेश के दतिया के पीतांबरा पीठ मंदिर के पास से हुई है. जानकारी के मुताबिक, आरोपी पीसी गुप्ता तांत्रिक पूजा करवाने के लिए पीतांबरा पीठ मंदिर गए थे.