close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कानपुर में सीएम योगी ने कहा, 'गंगा को मां कहा है तो पुत्र होने का दायित्व निभाना पड़ेगा'

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कानपुर में इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम का शुभारंभ किया.

कानपुर में सीएम योगी ने कहा, 'गंगा को मां कहा है तो पुत्र होने का दायित्व निभाना पड़ेगा'
ट्रैफिक कंट्रोल रहेगा तो प्रदूषण का स्तर घटेगा- सीएम योगी.

कानपुर: सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कानपुर में इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम का शुभारंभ किया. आज कानपुर नगर निगम को ODF (खुले में शौच मुक्त) घोषित किया गया. अपने संबोधन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कानपुर की पहचान मां गंगा से भी है. गंगा की सफाई को लेकर उन्होंने कहा कि मैं पीएम मोदी का आभार व्यक्त करता हूं कि, उन्होंने नमामि गंगे परियोजना की शुरुआत की. उन्होंने लोगों से अपील की कि वे इस योजना का हिस्सा बने. अगर, गंगा की सफाई करनी है तो इसे सरकारी अभियान के तहत नहीं किया जा सकता है. आमलोगों की मदद से ही मां गंगा को साफ और स्वच्छ बनाया जा सकता है. गंगा को मां कहा है तो हम अपना पुत्र होने का दायित्व भी निभाएं. ये सबका दायित्व है.

कानपुर की पहचान अच्छी चीजों की वजह से होनी चाहिए- सीएम योगी
इस दौरान उन्होंने कहा कि कानपुर की पहचान बुरी चीजों की वजह से नहीं, बल्कि अच्छी चीजों की वजह से होनी चाहिए. पिछले दिनों कानपुर को विश्व में सबसे गंदा शहर बताया गया था. उस रिपोर्ट का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा कि विश्व पटल पर कानपुर की पहचान सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर के तौर पर हुई है. यह हमारी बदनामी है. हमें इस दाग को मिटाना होगा. इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम का उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि टेक्नोलॉजी की मदद से शहर की तमाम सुविधाओं को बेहतर करना है. इससे शहर में धूल-धुआं और जाम की समस्याओं से निजात मिलेगी. 

ट्रैफिक नियमों का पालन करने की अपील
उन्होंने कानपुर की जनता से अपील की कि वे ट्रैफिक नियमों का पालन करें. ट्रैफिक नियमों का पालन करने से कानपुर में ट्रैफिक की समस्या नहीं रह जाएगी. यह प्रशासन के साथ-साथ आप सभी की जिम्मेदारी है कि नियमों की पालना करें. सीएम योगी ने कहा कि कानपुर सबसे ज्यादा प्रदूषित है, क्योंकि यहां ट्रैफिक के नियमों की अनदेखी होती है. लेकिन, इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम की वजह से ट्रैफिक से मुक्ति मिलेगी और शहर का प्रदूषण स्तर घटेगा.

गंगा के किनारे के गांव ODF घोषित हो चुके हैं
गंगा की सफाई को लेकर उन्होंने कहा कि गंगा के किनारे के गांवों को हम खुले में शौच से मुक्त कर चुके हैं. गंगा की पूजा कर उसमें गंदगी डालने से हम पाप ही कर रहे हैं. वृक्षारोपण करिए, वो पानी भी रोकते हैं और जल का रिसाव भी करते हैं. शिमला में 9 दिन तक पानी नहीं आया. जंगलों में आग लगी है. एक तरफ आग लगी है, दूसरी तरफ पानी की कमी है और हम आग बुझाने के लिए पानी भी चाहते हैं. यह कैसे संभव हो सकता है.

गंगा के बिना सभ्यता नहीं रह पाएगी
सीएम योगी ने कहा कि जब नदी नहीं रहेंगी तो सभ्यता भी नहीं रह पाएगी. नदियों के उजड़ने से सभ्यता नष्ट हो जाती है. प्रकृति का मतलब केवल मानव से नहीं है. प्रकृति का मतलब मानव के साथ जीव जंतु भी हैं. इसलिए, हर हाल में गंगा नदी को हमें मिलकर बचाना होगा. सीएम योगी ने कहा कि 15 दिसंबर के बाद गंगा में एक भी नाले का पानी नहीं गिरेगा.