CM योगी बोले, 'गणेश चतुर्थी और मोहर्रम जैसे त्योहारों के मद्देनजर सतर्क रहे प्रशासन'

मुख्यमंत्री ने जनपद स्तर पर सोशल मीडिया पर विशेष रूप से निगरानी रखने के निर्देश के साथ ही पेट्रोलिंग को निरंतर तेज किए जाने की बात कही.

CM योगी बोले, 'गणेश चतुर्थी और मोहर्रम जैसे त्योहारों के मद्देनजर सतर्क रहे प्रशासन'
मुख्यमंत्री ने अवैध असलहों की शिकायतों को संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी को इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गणेश चतुर्थी और मोहर्रम जैसे त्योहारों के मद्देनजर पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने समय रहते सभी सुरक्षा इंतजाम सुनिश्चित करने को कहा. उन्होंने हर स्तर पर सुरक्षा प्रबंध चाकचौबंद रखने और असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगाह रखने के भी निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही अफवाहों को रोकने को लेकर भी कड़ी तैयारी करने और आगामी त्योहारों को स्वच्छता, सुरक्षा और सुव्यवस्था से जोड़ने के लिए कहा.

मुख्यमंत्री ने यह निर्देश शनिवार को अपने सरकारी आवास पर गणेश चतुर्थी और मोहर्रम के त्योहार के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में जिलाधिकारियों के साथ की गई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान दिए. उन्होंने जिलाधिकारियों, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों, पुलिस अधीक्षकों, को निर्देश देते हुए कहा कि पूजा-पंडालों और मोहर्रम से संबंधित ताजियों के स्थानों के आसपास साफ-सफाई और सुरक्षा के विशेष इंतजाम सुनिश्चित किए जाएं. उन्होंने कहा कि हर थाना स्तर पर पीस कमेटी के साथ बैठक कर इस कार्यक्रम को जनसहभागिता से जोड़ें. 

मुख्यमंत्री ने जनपद स्तर पर सोशल मीडिया पर विशेष रूप से निगरानी रखने के निर्देश के साथ ही पेट्रोलिंग को निरंतर तेज किए जाने की बात कही. उन्होंने कहा यह सुनिश्चित करें कि परंपरा के विरुद्ध कुछ भी नहीं होने देंगे. उन्होंने ताजिया की हाइट सुनिश्चित करने के साथ ही त्योहारों में अस्त्र-शस्त्र का प्रदर्शन न हो, इसके लिए कार्यक्रमों के संचालक, आयोजकों को लिखित रूप से अवगत कराया जाए.

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर स्तर के अधिकारियों के सीयूजी नंबर हमेशा ऑन रहने चाहिए. मुख्यमंत्री ने अवैध असलहों की शिकायतों को संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी को इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए. इस मामले में जो लोग भी लिप्त हो या फिर जिस असलहे की दुकान में यह हुआ है, उसके लाइसेंस को जब्त करने के भी निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारी लोगों के साथ संवाद बनाकर उनसे अपील करें कि सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के अनुसार ही डीजे बजाएं. इसके साथ ही सड़क की बजाय अपने परिसर में ही ताजिया रखें. मुख्यमंत्री ने त्योहारों के मद्देनजर ट्रैफिक की व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त रखने के भी निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने विभिन्न् जनपदों में थानों के लिए भूमि प्राप्त न होने को लेकर, फायरस्टेशन के लिए भूमि उपलब्ध न होने को लेकर भी जिलाधिकारियों को निर्देश जारी किए. मुख्यमंत्री ने प्रतापगढ़, बहराइच, बलरामपुर, अमेठी, शामली, बिजनौर में नाबालिग बालिकाओं से संबंधित घटनाओं में दोषियों के शत-प्रतिशत दोषमुक्त होने को लेकर जिलाधिकारी और कप्तान को समीक्षा करने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री ने पॉस्को संबंधित मामलों को हर महीने डिस्ट्रिक कमेटी में रखने और स्पेशल कोर्ट गठित करने और उसकी समीक्षा करने के निर्देश दिए. 

गोतस्करी और गोकशी की घटनाओं को रोकें- सीएम योगी
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की नीति होने के बावजूद जिन जिलों में इस तरह की घटनाएं सामने आ रही हैं, उन्हे रोका जाए. सभी जिलाधिकारी और मुख्य चिकित्साधिकारी इसकी समीक्षा करें. इसके साथ ही निर्देश दिए कि कोई भी निराश्रित गोवंश सड़क या खेतों में न रहे. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि जो अवैध बूचड़खाने दोबारा संचालित हुए हैं, उन्हें सख्ती के साथ रोकें और जवाबदेही तय करें. 

मुख्यमंत्री ने ब़ॉर्डर वाले रास्तों पर बेहद सतर्कता बरतने को कहा. इसके साथ ही मेरठ में मिलावटी पेट्रोल-डीजल के पकड़े जाने को लेकर उन्होंने संबंधित पेट्रोल पंपों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए. इसके अलावा सीएम हेल्पलाइन में आमजन की समस्याओं का समयबद्ध ढंग से निस्तारण करने के भी निर्देश दिए.