अर्थव्यवस्था पर 'योगी मंत्र', टैक्स रेट कम होने से निवेश की आएगी बहार

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आर्थिक विकास की दर को तेज करने के लिए गए हालिया फैसले पर सीएम योगी ने कहा कि हमारी सरकार नए टैक्स रेट पर काम करने को पूरी तरह तैयार है. अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड वार से भारत को बहुत फायदा होने वाला है. 

अर्थव्यवस्था पर 'योगी मंत्र', टैक्स रेट कम होने से निवेश की आएगी बहार

लखनऊ: आज सीएम योगी (Yogi Adityanath) और उनके मंत्री मैनेजमेंट का पाठ पढ़ने IIM लखनऊ पहुंचे. यहां आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम योगी ने वर्तमान में भारतीय अर्थव्यवस्था, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा लिए गए हालिया फैसले और उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को 1 ट्रिलियन डॉलर बनाने के रोडमैप पर बातचीत की. उन्होंने कहा कि अगले दो महीने में उत्तर प्रदेश में बैंको द्वारा लोन मेला आयोजित किया जाएगा. इस मेले के जरिए MSME सेक्टर और लोगों को सस्ती दरों पर लोन मिलेंगे.

IIM लखनऊ में योगी सरकार और तमाम विभागों के प्रमुख अधिकारियों की यह तीसरी क्लास है. इसके मकसद को लेकर सीएम योगी ने कहा कि हमारा लक्ष्य 2024 तक उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को 1 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचाने की है. इसी को लेकर IIM में मंथन जारी है. इस बात से हम भलीभांति परिचित हैं कि जब तक अच्छी नीतियों का निर्माण और उसका बेहतर क्रियान्वयन नहीं होगा, तब तक इस सपने को पूरा नहीं किया जा सकता है. मंत्रियों और अधिकारियों को बेहतर क्रियान्वयन को लेकर ही ट्रेनिंग दी जा रही है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आर्थिक विकास की दर को तेज करने के लिए गए हालिया फैसले पर सीएम योगी ने कहा कि हमारी सरकार नए टैक्स रेट पर काम करने को पूरी तरह तैयार है. अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड वार से भारत को बहुत फायदा होने वाला है. यह हमारे लिए सुनहरा अवसर है. अगर, इस अवसर का फायदा उठा लिया तो भारत में निवेश की बाढ़ आ जाएगी. निवेश आने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और भारत का व्यापार घाटा कम होगा.

CM योगी के मंत्रियों को मैनेजमेंट का गुरु मंत्र, IIM लखनऊ में चल रही कक्षा

निवेशकों को आकर्षित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि,  हमने MSME सेक्टर के लिए कई सुधार के कदम उठाये हैं. इससे प्रदेश को  बहुत लाभ होगा. बैंकों को कर्ज देने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. पिछले ढाई साल के दौरान हमारी सरकार ने विकास के कई काम किए हैं. केंद्र सरकार की नीतियों की तारीफ करते हुए सीएम योगी ने कहा कि, पूरी दुनिया में आर्थिक सुस्ती छाई हुई है. विश्व की अर्थव्यवस्था 2-3 फीसदी की दर से विकास कर रही है. लेकिन, भारतीय अर्थव्यवस्था 5 फीसदी की रफ्तार से विकास कर रही है.

हाल ही में कॉरपोरेट टैक्स रेट कट को लेकर सीएम योगी ने कहा कि इससे निवेशकों और व्यापारियों में सकारात्मक संदेश गया है. यूपी में व्यापारियों के मन मुताबिक पॉलिसी पहले से बनी है.  हमारे पास पहले ही बड़ा निवेश आया है और अब टैक्स के कम होने से उत्तर प्रदेश को और निवेश मिलेगा. हमने बैंकर्स के साथ बैठक कर के भी साफ किया कि बैंकों को कारोबार के लिए मदद करनी होगी. उन्होंने कहा कि यूपी के पास पर्याप्त मात्रा में लैंड बैंक मौजूद है. इसकी वजह से व्यापारी किसी भी समय आकर यहां बड़े पैमाने पर निवेश कर सकते हैं. उन्होंने इस फैसले के लिए  प्रधानमंत्री मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को धन्यवाद कहा. उन्होंने कहा कि टैक्स रेट घटाने का फैसला साहसिक है और इससे मंदी की मार झेल रहे उद्योगों को बड़ी राहत मिली है. इसका असर निर्यात पर भी पड़ेगा और निर्यात बढ़ने से भारत का व्यापार घाटा कम होगा.