close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आज कुंभ में योगी कैबिनेट करेगी बैठक, राजभर ने किया बहिष्‍कार

कैबिनेट की बैठक प्रयागराज में कुंभ मेला स्थल के इंट्रीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर में होगी. 

आज कुंभ में योगी कैबिनेट करेगी बैठक, राजभर ने किया बहिष्‍कार
योगी कैबिनेट के मंत्री ओपी राजभर अपनी ही सरकार से नाराज चल रहे हैं. (फाइल फोटो.)

नई दिल्ली/प्रयागराज: योगी सरकार का सम्पूर्ण मंत्रिमंडल मंगलवार को प्रयागराज के दौरे पर रहेगा. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार प्रयागराज के तट पर चल रहे कुंभ मेले में 29 जनवरी को मंत्रिमंडल की बैठक करेगी. बैठक के बाद मुख्यमंत्री कुंभ में पवित्र संगम में स्नान भी करेंगे. मुख्यमंत्री के साथ मंत्रिमंडल के उनके सहयोगी भी स्नान कर सकते हैं. कैबिनेट की बैठक प्रयागराज में कुंभ मेला स्थल के इंट्रीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर में होगी. स्नान के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ पूरे मंत्रिमंडल के सदस्य 450 साल के बाद खोले गए अक्षयवट और पवित्र सरस्वती कूप के दर्शन करेंगे. वहीं, आज (मंगलवार) को प्रयागराज में आयोजित प्रदेश सरकार के कैबिनेट की बैठक में मंत्री ओम प्रकाश राजभर शामिल नहीं होंगे. सोमवार को उन्होंने इसकी लिखित सूचना सरकार को भेजी.

यह बैठक सुबह 11 बजे आरंभ होगी. धर्म संसद के पहले प्रयागराज की कैबिनेट बैठक में योगी आदित्यनाथ राम मंदिर निर्माण के संबंध में कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं. हालांकि आधिकारिक रूप से इस संबंध में कोई भी बोलने को तैयार नहीं है. जानकार बताते हैं कि विश्व हिंदू परिषद की 31 जनवरी और एक फरवरी को होने वाली धर्म संसद के पहले प्रयागराज कुंभ में ही योगी कैबिनेट की बैठक का महत्व बढ़ गया है. विहिप वहां धर्म संसद में मंदिर निर्माण की अगली रणनीति का ऐलान करेगी. उत्तराखंड बनने के बाद राजधानी लखनऊ के बाहर यह कैबिनेट की पहली बैठक बताई जा रही है. इसमें उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा के साथ ही सभी कैबिनेट मंत्री भी शामिल होंगे. कुंभ दौरे में राज्य मंत्री और स्वतंत्र प्रभार के मंत्री भी शामिल होंगे.

वहीं, ओमप्रकाश राजभर द्वारा कैबिनेट बैठक के बहिष्कार के फैसले को सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट लागू नहीं किए जाने के विरोध स्वरूप देखा जा रहा है. राजभर ने बताया है कि कैबिनेट से संबंधित पत्र आज उनके कार्यालय को प्राप्त हुआ था. निजी सचिव के माध्यम से बैठक में शामिल नहीं होने की सूचना उन्होंने सरकार को दे दी है. यह भी स्पष्ट किया कि उन्होंने सिर्फ प्रयागराज कैबिनेट में नहीं जाने का फैसला लिया है, लखनऊ में होने वाली बैठकों में वह पूर्ववत शामिल होते रहेंगे. जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को वह वाराणसी में अपनी पार्टी की बैठक में शामिल होंगे.

आपको बता दें कि सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट नहीं लागू होने से योगी कैबिनेट के मंत्री ओपी राजभर नाराज चल रहे हैं. उन्होंने अल्टीमेटम दे रखा है कि 24 फरवरी तक इसे लागू नहीं किया गया तो वह 25 फरवरी को गठबंधन से बाहर हो सकते हैं.