close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्रदूषण की समस्या पर योगी सरकार का मंथन, फैक्ट्रियों-कंस्ट्रक्शन साइट्स की चेकिंग के निर्देश

बैठक में सीएम ने अधिकारियों को जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. बैठक के बाद मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव पर्यावरण ने बताया कि मुख्यमंत्री लगातार हालात की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. 

 प्रदूषण की समस्या पर योगी सरकार का मंथन, फैक्ट्रियों-कंस्ट्रक्शन साइट्स की चेकिंग के निर्देश
सीएम योगी की फाइल फोटो.

लखनऊ: लखनऊ (Lucknow) में सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने प्रदूषण (Pollution) से निपटने के लिए एक बड़ी बैठक की. बैठक में मुख्य सचिव आर के तिवारी और पर्यावरण विभाग (Environment Department) की प्रमुख सचिव समेत कई अधिकारी मौजूद रहे. सीएम ने इस दौरान कई जिलों के डीएम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए हालात की समीक्षा की.

बैठक में सीएम ने अधिकारियों को जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. बैठक के बाद मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव पर्यावरण ने बताया कि मुख्यमंत्री लगातार हालात की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. सीएम ने निर्देश दिया कि जहां निर्माण कार्य हो रहे हैं उन्हें कवर किया जाए, जहां धूल हो वहां पानी का छिड़काव हो, कूड़े का सही निस्तारण हो. सीएम ने स्वास्थ विभाग और नगर निगम को भी फॉगिंग करने निर्देश दिए हैं.

सीएम योगी ने जिलाधिकारियों और नगर विकास विभाग को निर्देश दिए कि शहरों में कूड़े का उचित निस्तारण काराया जाए. कूड़ा जलाने पर लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए. निर्माण के काम में लगी कंपनियों से तय मानकों का पालन कराया जाए.

लाइव टीवी देखें

इसके साथ ही उन्होंने कृषि विभाग को निर्देश दिए कि वह यह सुनिश्चित करे कि किसान प्रदेश में कहीं भी पराली न जलाई जाएं. उन्होंने सभी मंडलायुक्तों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने मंडलों के जनपदों में वायु प्रदूषण की स्थिति, पराली और कूड़ा जलाने की घटनाओं की रोजाना समीक्षा करें.