दलित दूल्हे को घोड़ी पर चढ़ने से रोका, विवाद के बाद ऊंची जाति के दबंगों ने की पत्थरबाजी

गुजरात के बनासकांठा जिले में रविवार को एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई.

दलित दूल्हे को घोड़ी पर चढ़ने से रोका, विवाद के बाद ऊंची जाति के दबंगों ने की पत्थरबाजी
प्रतीकात्मक तस्वीर

पालनपुर: गुजरात के बनासकांठा जिले में रविवार को एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई. यहां एक दलित युवक की शादी की सारी रस्में पुलिस की सुरक्षा के बीच करनी पड़ी. अधिकारियों के मुताबिक दूल्हे के घोड़ी पर बैठकर आने से ऊंची जाति के लोगों ने आपत्ति जताई थी और पत्थरबाजी शुरू कर दी थी.

बनासकांठा के दलित समाज के अध्यक्ष दलपतभाई भाटिया ने बताया, 'घटना सांडीपादा गांव में हुई जहां जम्मू-कश्मीर में पदस्थ 27 साल के आर्मी जवान आकाश कटोदिया की शादी की रस्में चल रही थीं. उसी समय ऊंची जाति के कुछ लोगों ने आपत्ति जाहिर की.'  

उन्होंने कहा, 'कटोदिया कुछ दिन पहले ही अपने गांव शादी के लिए आए थे. जब उन्होंने ऊंची जाति के लोगों की आपत्तियों को नजरअंदाज करने की कोशिश की तो उन लोगों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी. इस दौरान एक 60 साल के बुजुर्ग और गरबा करने वाली कुछ महिलाएं घायल हो गईं. डीजे साउंड सिस्टम भी टूट गया.' 

उन्होंने कहा कि जिस घोड़े पर बैठकर बारात में जा रहे थे, उस पर भी विवाद हो गया और ये घोड़ा भी ऊंची जाति के ठाकोर समुदाय से है, जिसके बाद हमने पुलिस से मदद मांगी और पुलिस ने हमें सुरक्षा दी. पुलिस ने बताया कि अब स्थिति सामान्य है और पत्थरबाजी करने वाले लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है.