close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केरल: ‘वेद, वेदांत और तंत्र’ की शिक्षा के लिए खुलेगा कॉलेज

केरल में सबसे बड़े मंदिर संगठन त्रावणकोकर देवास्मव बोर्ड (टीडीबी) ज्ञान की प्राचीन विधायें ‘वेद, वेदांत और तंत्र’ के अध्ययन के लिए एक विशेष कॉलेज और अध्ययन केन्द्र खोलने पर विचार कर रहा है. 

केरल: ‘वेद, वेदांत और तंत्र’ की शिक्षा के लिए खुलेगा कॉलेज
खुलेंगे ‘नालंदा’ व ‘तक्षशिला’ जैसे शिक्षा केंद्र (प्रतीकात्मक तस्वीर)

तिरूवंतपुरमछ: केरल में सबसे बड़े मंदिर संगठन त्रावणकोकर देवास्वाम बोर्ड (टीडीबी) ज्ञान की प्राचीन विधायें ‘वेद, वेदांत और तंत्र’ के अध्ययन के लिए एक विशेष कॉलेज और अध्ययन केन्द्र खोलने पर विचार कर रहा है. एक स्वायत्त संगठन टीडीबी दक्षिणी राज्य में सबरीमाला के प्रसिद्ध भगवान अय्यप्पा मंदिर सहित कम से कम 1,248 मंदिरों का प्रबंध देखता है.

टीडीबी के सूत्रों ने बताया कि यहां के षणगुमुघम में प्रस्तावित वेद-वेदांत-तांत्रिक और सस्थमकोट्टा में वेद-वेदांत कॉलेज में अध्यात्मिकता की प्राचीन परंपराओं को सिखाने का एक अनोखा केन्द्र होगा.

वेदों के बारे में आसान भाषा में जागरूकता फैलाएं : मोहन भागवत

दोनों संस्थानों में ‘गुरूकुल’ परंपरा का पालन किया जाएगा जिसमें प्राचीन भारत में प्रचलित आवासीय शिक्षण व्यवस्था की तर्ज पर आवासीय सुविधा का भी प्रबंध होगा.

टीडीबी के अध्यक्ष प्रयार गोपालकृष्णन ने बताया कि इन्हें आधुनिकता के साथ शैक्षिक और गैर-शिक्षेतर गतिविधियों के संदर्भ में, ‘नालंदा’ और ‘तक्षशिला’ जैसे उच्च शिक्षा के प्राचीन केंद्रों की तरह तैयार किया जाएगा.