Vegetables Price Hike: महंगाई की मार! पेट्रोल-डीजल के बाद अब 50% तक बढ़े सब्जियों के दाम, जानें नए रेट
X

Vegetables Price Hike: महंगाई की मार! पेट्रोल-डीजल के बाद अब 50% तक बढ़े सब्जियों के दाम, जानें नए रेट

सब्जियों के दाम करीब 50 प्रतिशत तक बढ़ गए हैं. इस वक्त दिल्ली की मंडी में आलू 20 रुपये, टमाटर 80 रुपये और प्याज 50 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से बिक रही है.

Vegetables Price Hike: महंगाई की मार! पेट्रोल-डीजल के बाद अब 50% तक बढ़े सब्जियों के दाम, जानें नए रेट

नई दिल्ली: त्योहारी सीजन में मिडिल क्लास को मंहगाई ने बड़ा झटका दिया है. गैस सिलेंडर और डीजल-पेट्रोल के बाद अब सब्जियों के दाम (Vegetables Price Hike) आसमान पर पहुंच गए हैं. चाहे उत्तर प्रदेश हो, महाराष्ट्र हो या देश की राजधानी दिल्ली, सभी जगह सब्जियों के दाम अब आम आदमी की जेब पर भारी पड़ने लगे हैं.

कीमतों में 50 फीसदी की बढ़ोतरी

खासतौर पर दिल्ली की बात करें तो यहां पर सब्जियों के दाम में अच्छी खासी बढ़ोत्तरी देखी जा रही है. जहां एक तरफ सब्जी मंडियों में सब्जी की कीमतें तेजी से बढ़ी, वहीं सब्जियों के रिटेल दाम ने आम लोगों की मुश्किलें बढ़ा रखी है. रिटेल सब्जी विक्रेताओं के मुताबिक सब्जी की कीमतों में 50 फीसदी बढ़ोत्तरी हुई है. रिटेल में टमाटर 80 रुपये प्रति किलोग्राम मिल रहा है. वहीं, टमाटर के दाम 70 रुपये प्रति किलो हो गए हैं. प्याज की बात करें तो इस वक्त मंडी में ये 45 से 50 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से बिक रही है. जबकि आलू 20 रुपये प्रति किलोग्राम, मटर 200, गोभी 80 और लौकी 40 रुपये प्रति किलोग्राम के रेट पर मिल रही है.

ये भी पढ़ें:- पुलिस केस से आजिज शख्‍स पहुंचा 'श्री राम' के दर, भगवान से मांगा इंसाफ

केंद्र सरकार ने जारी किया बफर स्टॉक

उधर, केंद्र सरकार ने रविवार की कहा कि बफर स्टॉक जारी होने से प्याज की कीमतों को स्थिर किया जा रहा है, जबकि टमाटर और आलू की कीमतों में नरमी के प्रयास जारी हैं. खाद्य और उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि प्याज का बफर स्टॉक उन राज्यों में जारी किया जा रहा है, जहां कीमतें अखिल भारतीय औसत से ऊपर हैं और कीमतें पिछले महीने की तुलना में बढ़ रही हैं. विभाग ने कहा कि 12 अक्टूबर, 2021 को दिल्ली, कोलकाता, लखनऊ, पटना, रांची, गुवाहाटी, भुवनेश्वर, हैदराबाद, बंगलुरू, चेन्नई, मुंबई, चंडीगढ़, कोच्चि और रायपुर जैसे प्रमुख बाजारों में कुल 67,357 टन प्याज जारी किया गया.

ये भी पढ़ें:- इन 6 राशि के जातकों की बढ़ने वाली है 'टेंशन', बचना है तो सोमवार को करें ये काम

ऑनलाइन सब्जियां खरीद रहीं महिलाएं

जाहिर तौर पर, इन बढ़ी हुई कीमतें से आम आदमी के जेब पर बोझ बढ़ा है. खासतौर पर महिलाएं जो किचेन के बजट के बिगड़ने से परेशान हैं. इन महिलाओं का कहना है कि अब हाथ संभाल कर खर्च करना पड़ेगा. सब्जियों की मात्रा भी अब बजट के हिसाब से काम करनी पड़ेगी. वहीं कुछ और महिलाओं के मुताबिक, अब सस्ती सब्जियों के विकल्प ढूंढने लगी हैं. चाहे वो ऑनलाइन हो या साप्ताहिक बाजार, वहां से सब्जियां खरीदना ज्यादा पसंद कर रही हैं. कई लोग मंडी या रेहडी से सब्जियां न लेकर ऑनलाइन ऑर्डर करना पसंद कर रहे हैं. महिलाओं के मुताबिक, इससे काफी पैसों की बचत हो जाती है.

LIVE TV

Trending news