इलाहाबाद विश्वविद्यालय का मामला पहुंचा दिल्ली, कुलपति के खिलाफ भ्रष्टाचार का आरोप
Advertisement
trendingNow1570372

इलाहाबाद विश्वविद्यालय का मामला पहुंचा दिल्ली, कुलपति के खिलाफ भ्रष्टाचार का आरोप

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के कुलपति रतन लाल हंगलू पर भ्रष्टाचार व अनैतिक आचरण का आरोप लगा है.

इलाहाबाद विश्वविद्यालय का मामला पहुंचा दिल्ली, कुलपति के खिलाफ भ्रष्टाचार का आरोप

नई दिल्ली: पूरब का ऑक्सफोर्ड कहा जाने वाला इलाहाबाद विश्वविद्यालय (University of Allahabad) इस समय पढ़ाई नहीं किसी और मामले में चर्चा में है. इलाहाबाद विश्वविद्यालय(University of Allahabad) के कुलपति रतन लाल हंगलू पर भ्रष्टाचार व अनैतिक आचरण का आरोप लगा है. ये आरोप किसी और ने नहीं बल्कि इलाहाबाद विश्विद्यालय अध्यापक संघ के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर राम किशोर शास्त्री और पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रोहित मिश्र ने प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कुलपति रतन लाल हंगलू पर भ्रष्टाचार व अनैतिक आचरण का आरोप लगाया है.

कुलपति को हटाने की मांग को लेकर पूर्व पदाधिकारियों, शिक्षक व छात्रों ने मानव संसाधन मंत्रालय के सामने धरना देने की चेतावनी दी है. प्रोफेसर शास्त्री ने आरोप लगाया कि वर्तमान कुलपति के कार्यकाल में विश्विद्यालय प्रशासनिक भ्रष्टाचार और वित्तीय अराजकता का अड्डा बन गया है. उन्होंने कहा कि कुलपति पर करोड़ो रूपये के भ्रष्टाचार, अनैतिक व अमर्यादित आचरण के गंभीर आरोप हैं.

कई जांच रिपोर्ट में आरोपो की पुष्टि हो चुकी है. लेकिन कुलपति गुंडों के दम पर छात्रों और शिक्षकों को धमकाकर विश्वविद्यालय में आतंक फैलाकर तानाशाही भरा प्रशासन चला रहे हैं. शिक्षक संघ और छात्रसंघ के पूर्व पदाधिकारियों ने कुलपति हंगलू के ऑडियो व चैट सार्वजनिक करते हुए उनपर गलत आचरण के भी गंभीर आरोप लगाए हैं.

रोहित मिश्र ने कहा कि जिस किसी ने भी कुलपति के खिलाफ आवाज उठाई उसके खिलाफ झूठे मामले दर्ज करवाने की कोशिश की गई. प्रोफेसर शास्त्री के खिलाफ झूठी तहरीर दी गई. प्रोफेसर शास्त्री ने कुलपति को बर्खास्त करने की मांग करते हुए कहा कि अगर मानवसंसाधन मंत्रालय अपनी ही कमेटियों की रिपोर्ट को स्वीकार कर ले तो स्पष्ट हो जाएगा कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय(University of Allahabad) अवैध नियुक्तियों का अड्डा बन चुका है और नियुक्ति पाने की पहली शर्त भ्रष्ट आचरण में लिप्त होना है.

Trending news