वाजपेयी ने सिद्धांतों की राजनीति की, वह एक संपूर्ण व्यक्ति थे : उपराष्ट्रपति वेकैंया नायडू

वेकैंया नायडू ने कहा, ‘वह (वाजपेयी) ऐसे नेता थे जिनमें कठोरता और कोमलता का बेहतरीन संतुलन था.'

वाजपेयी ने सिद्धांतों की राजनीति की, वह एक संपूर्ण व्यक्ति थे : उपराष्ट्रपति वेकैंया नायडू
पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी का लंबी बीमारी के बाद 16 अगस्त को नयी दिल्ली में निधन हो गया था. (फाइल फोटो)

हैदराबाद: उपराष्ट्रपति वेकैंया नायडू ने बुधवारको पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को ‘भारतीय राजनीति का सरताज’ बताते हुए उनकी प्रशंसा की और कहा कि देश के लिए उनके शानदार योगदान ने लाखों लोगों पर अमिट छाप छोड़ी.

वेकैंया नायडू ने एक बुद्धिजीवी मंच ‘प्रज्ञा भारती’ द्वारा वाजपेयी की याद में यहां आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘वह (वाजपेयी) ऐसे नेता थे जिनमें कठोरता और कोमलता का बेहतरीन संतुलन था. वह असाधारण, दुर्लभ प्रतिभाओं से धनी, एक संपूर्ण व्यक्ति थे.’  बता दें पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी का लंबी बीमारी के बाद 16 अगस्त को नयी दिल्ली में निधन हो गया था.

नायडू ने कहा कि वाजपेयी के संसदीय योगदान, प्रशासनिक कौशल और भाषण कौशल ने लाखों भारतीयों पर अमिट छाप छोड़ी. उन्होंने कहा कि वाजपेयी ने सिद्धांतों की राजनीति की और राजनीति में मूल्य डाले ‘जो समय की मांग है.’

नायडू ने कहा कि वाजपेयी की सरकार एक वोट से गिर गई लेकिन उन्होंने सांसद खरीदने के लिए मोलभाव करने से इंकार कर दिया. उन्होंने कहा कि वाजपेयी जो परिवर्तन लेकर आए वे सच में विशिष्ट हैं. उन्होंने पोकरण परमाणु परीक्षण और विदेश नीति के मुद्दों पर वाजपेयी के योगदान की प्रशंसा की.

(इनपुट - भाषा)