West Bengal: ‘खेला होबे’ BJP ने TMC के खिलाफ उसी के नारे का किया इस्तेमाल, कहा – जल्द हो सकते हैं चुनाव
topStories1hindi1468752

West Bengal: ‘खेला होबे’ BJP ने TMC के खिलाफ उसी के नारे का किया इस्तेमाल, कहा – जल्द हो सकते हैं चुनाव

BJP vs TMC: तृणमूल ने 2021 के विधानसभा चुनाव से पहले ‘खेला होबे’ का नारा गढ़ा था और यह बेहद लोकप्रिय हुआ था.  पश्चिम बंगाल के बाहर कई अन्य पार्टियों ने भी बाद में इसका इस्तेमाल किया.

West Bengal:  ‘खेला होबे’ BJP ने TMC के खिलाफ उसी के नारे का किया इस्तेमाल, कहा – जल्द हो सकते हैं चुनाव

West Bengal News: पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी के लोकप्रिय नारे 'खेला होबे'  का प्रयोग करते हुए बीजेपी ने कहा कि राज्य में निर्धारित समय से पहले विधानसभा चुनाव हो सकते हैं. पार्टी के पश्चिम बंगाल अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने कहा कि बीजेपी अहिंसा में विश्वास रखती लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि अगर धक्का-मुक्की की नौबत आती है तो वह प्रतिक्रिया नहीं देगी.  

बीजेपी नेता ने शुक्रवार को उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर में एक जनसभा में कहा, ‘खेल खेला दोनों दलों द्वारा जाएगा - 'खेला होबे' - और यह खतरनाक होगा.’

बता दें तृणमूल ने 2021 के विधानसभा चुनाव से पहले ‘खेला होबे’ का नारा गढ़ा था और यह बेहद लोकप्रिय हुआ था. ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार 2021 में लगातार तीसरी बार राज्य में सत्ता में आई थी. पश्चिम बंगाल के बाहर कई अन्य पार्टियों ने भी बाद में इसका इस्तेमाल किया.

2024 में हो सकता है बंगाल में चुनाव
राज्य में जल्द चुनाव की ओर इशारा करते हुए, बीजेपी नेता ने दावा किया, ‘अगर पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव 2024 के लोकसभा चुनाव के साथ होते हैं तो उन्हें आश्चर्य नहीं होगा.’

और लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने की संभावना
मजूमदार ने दावा किया, ‘लगभग 300 टीएमसी कार्यकर्ता 2021 के चुनाव के बाद की हिंसा से संबंधित मामलों में सलाखों के पीछे हैं, जिनकी जांच सीबीआई द्वारा की जा रही है.’ उन्होंने जोर देकर कहा कि और लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने की संभावना है.

मजूमदार ने कहा कि कोई भी व्यक्ति, चाहे वह किसी भी बड़े पद पर हो, जब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं, तब तक बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने दावा किया कि पुलिस बल की निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए लोकसभा में एक विधेयक लाया जाएगा.

(इनपटु - एजेंसी)

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की जरूरत नहीं

Trending news