close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र के कुछ लोगों को अनुच्छेद 370 हटाए जाने से परेशानी क्यों हो रही है: रवि शंकर प्रसाद

प्रसाद ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह कहां हैं? उन्हें हम नही, बल्कि कांग्रेस के ही नेता खोज रहे हैं. 

महाराष्ट्र के कुछ लोगों को अनुच्छेद 370 हटाए जाने से परेशानी क्यों हो रही है: रवि शंकर प्रसाद
केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मुंबई में थे.

मुंबई: केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi shankar Prasad) ने शनिवार को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections 2019) के मद्देनजर मुंबई में थे. प्रसाद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया जिसमें उन्होंने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. प्रसाद ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर निशाना साधते हुए कहा कि वह कहां हैं? उन्हें हम नही, बल्कि कांग्रेस के ही नेता खोज रहे हैं. उनके नेता सोच रहे हैं कि हर गंभीर स्तिथि में वो गायब हो जाते हैं. 

प्रसाद ने विपक्ष पर प्रहार करते हुए कहा, "महाराष्ट्र के कुछ लोगों को धारा 370 को हटाए जाने से परेशानी क्यों हो रही है? आर्टिकल 370 पर ये सवाल क्यों नही पूछा जाए कि कांग्रेस ने इसका विरोध क्यों किया था? यही सवाल शरद पवार से भी है. आज तक कांग्रेस ने ये नहीं बताया कि आर्टिकल 370 से आज तक देश को क्या फायदा हुआ है. जम्मू-कश्मीर में इस धारा की वजह से जम्मू की एक हिंदू बेटी दिल्ली के हिन्दू बेटे से शादी करती तो उसे सम्प्पति से बेदखल होना पड़ता. कश्मीरियों को वहां से जबरन भगाया गया. आर्टिकल 370 अलगाववाद और आतंकवाद का पोषक बना. आज सरदार पटेल को आदर करने का मन करता है. 560 रियासतों में से सिर्फ एक में ही समस्या क्यों है, इसका जवाब राहुल गांधी दे." 

LIVE टीवी: 

कानून मंत्री ने कहा, "महाराष्ट्र के चुनाव की विभाजन रेखा बहुत क्लियर है. एक तरह एक नेता की विश्वभर में पहचान है, उन्होंने देश मे गवर्नेंस के तीन आयाम दिए है शुचिता, राष्ट्रीयता, गुड गवर्नेंस. देवेंद्र फडणवीस इन तीनों सिद्धांतो पर प्रभावी तरीके से चले हैं. 2008 में मुंबई पर हमला हुआ था, उस वक्त की प्रदेश और देश की सरकार हताश नज़र आ रहे थे लेकिन आज दुश्मन मुंबई में तो क्या देश के किसी शहर में हमला करने की हिम्मत नही करता है क्योंकि अब जवाब उरी और बालाकोट की शक्ल में होगा. हम जो बोलते हैं वो करते हैं. बिचौलिये के दिल्ली के रास्ते बंद हो चुके हैं. फडणवीस ने भी वो दरवाजे बंद कर दिए हैं. फडणवीस पर भ्रष्टाचार का कोई धब्बा नहीं है, कोई दंगा नही हुआ है इन पांच सालों में."