close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारतीय सेना की PoK में बड़ी कार्रवाई: जानें इस बार क्यों किया गया तोप का इस्तेमाल

पाकिस्तान की कायराना हरकत का भारतीय सेना ने इस बार बेहद सख्त जवाब दिया है. 

भारतीय सेना की PoK में बड़ी कार्रवाई: जानें इस बार क्यों किया गया तोप का इस्तेमाल
सीमा पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे पाकिस्तान को सेना ने जमकर सबक सिखाया है.

नई दिल्ली: पाकिस्तान (Pakistan) की कायराना हरकत का भारतीय सेना (Indian Army) ने इस बार बेहद सख्त जवाब दिया है. सीमा पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे पाकिस्तान को सेना ने जमकर सबक सिखाया है. भारतीय सेना ने PoK के नीलम घाटी में आतंकी लॉन्च पैड को निशाना बनाकर तोप से कार्रवाई की. भारतीय सेना की इस कार्रवाई में 4 से ज्यादा आतंकी लॉन्च पैड तबाह हुए हैं.

साथ ही पाकिस्तान सेना की कई चौकियां में बर्बाद हुई हैं. 20 से ज्यादा आतंकियों और 10 से ज्यादा पाकिस्तानी सैनिकों के मारे जाने की ख़बर है. सूत्रों के मुताबिक लॉन्च पैड पर करीब 200 से ज्यादा आतंकी जमा थे. पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में बड़ी घुसपैठ की फिराक में था जिससे वहां हमलों को अंजाम दिया जा सके. इस घुसपैठ को अंजाम देने के लिए उसने कल रात तंगधार सेक्टर में भीषण गोलाबारी की. 

वहीं दूसरी तरफ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सीज़फायर उल्लंघन और उसके बाद PoK में भारतीय सेना की कार्रवाई को लेकर सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत से बात की है. सूत्रों के मुताबिक रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सेना प्रमुख से कहा है कि वो पूरे हालात पर लगातार नज़र बनाए रखें और उन्हें पल-पल का अपडेट देते रहें. 

भारतीय सेना की कार्रवाई में मारे गए 20 आतंकी, रक्षा मंत्री ने की सेना प्रमुख से बात

अब यह समझिए कि भारतीय सेना ने इस बार तोप का इस्तेमाल क्यों किया. दरअसल, आर्टिलरी गन से आतंकी ठिकानों पर सटीक निशाना लगाना संभव है. दुश्मन के इलाके में बिना गए कार्रवाई हो सकती है. जरूरत के हिसाब से रेंज का इस्तेमाल हो सकता है. LoC के पार लॉन्चिंग पैड काफी नजदीक हैं. कुछ लॉन्चिंग पैड 500 मीटर की दूरी पर हैं.   

LIVE टीवी:

पीओके में भारतीय सेना ने दिवाली धमाका कर दिया है. भारतीय सेना ने PoK में आतंकियों पर डायरेक्ट एक्शन किया है लेकिन इसका ऐलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 दिन पहले ही हिसार रैली में कर दिया था. प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान को संकेत देते हुए कहा था कि अब आतंकियों का इंतजार नहीं, इंतजाम किया जाएगा. भारतीय सेना की कार्रवाई में कई आतंकी अड्डे तबाह हुए और 10 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए हैं.