close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पहले मांगती थी लिफ्ट, कार में बैठते ही रेप का खौफ दिखाकर ऐंठती थी पैसा

 मालूम हो कि कुछ महिलाए कार में लिफ्ट लेकर कार चालक पर बलात्कार का झूठा आरोप लगाती थी, उसके बाद इस गिरोह के लोग उनसे मोटी रकम वसूलते थे.

पहले मांगती थी लिफ्ट, कार में बैठते ही रेप का खौफ दिखाकर ऐंठती थी पैसा
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नोएडा: मोहपाश में फंसा कर लोगों से लाखों की वसूली करने वाले गिरोह के खिलाफ थाना सेक्टर 39 में मंगलवार रात एक और व्यक्ति ने मुकदमा दर्ज कराया है. पीड़ित का आरोप है कि मोहपाश मामले में गिरफ्तार सेक्टर 44 चौकी प्रभारी सुनील कुमार शर्मा और विनीता नामक महिला ने उनसे पांच लाख रुपये वसूल किए थे तथा पांच लाख रुपए की और मांग कर रहे थे.नगर पुलिस अधीक्षक सुधा सिंह ने बताया कि सेक्टर 31 में रहने वाले अशोक कुमार ने थाना सेक्टर 39 में मंगलवार रात रिपोर्ट दर्ज कराई कि 13 अप्रैल को उनके घर पर विनीता नामक एक महिला आई.

उसने उनसे अपना पैन कार्ड बनवाने के लिए कहा. महिला ने उन्हें एक रसीद दिखाई जिस पर 11 अप्रैल को उसके द्वारा पैन कार्ड के लिए आवेदन किया गया था.एसपी ने बताया कि पीड़ित ने महिला से कहा कि वह अपने घर जाए उनके घर पर आयकर विभाग द्वारा पैन कार्ड स्वतः ही भेज दिया जाएगा. इस बात को लेकर महिला ने अशोक के साथ झगड़ा शुरू कर दिया तथा मारपीट पर उतारू हो गई.

एसपी ने बताया कि 13 अप्रैल को महिला सेक्टर 44 चौकी प्रभारी सुनील शर्मा व अन्य पुलिसकर्मियों के साथ सेक्टर 31 स्थित पीड़ित के घर पहुंची, तथा पीड़ित को पुलिस वालों के साथ लेकर सेक्टर 44 चौकी पर आ गई. यहां पर उनके खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज करने की महिला ने धमकी दी.

पीड़ित के अनुसार उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि वह बुजुर्ग व्यक्ति हैं, तथा इस तरह के कृत्य करने के लिए वह सक्षम नहीं है. इसके बावजूद भी महिला और पुलिस वालों ने उनके साथ गाली गलौच कर उन्हें धमकाया तथा उनसे पांच लाख रुपये ले लिए. पीड़ित का आरोप है कि इसके बावजूद भी चौकी प्रभारी सुनील शर्मा का उनके पास पैसों के लिए फोन आता रहा.

एसपी ने बताया कि जब कल मोहपाश गिरोह चलाने वाले सेक्टर 44 चौकी प्रभारी सुनील शर्मा, तीन सिपाही सहित 15 लोगों की गिरफ्तारी हुई तो पीड़ित थाने पहुंचा. उसने दारोगा, महिला तथा अन्य आरोपियों की शिनाख्त की. इसके बाद पीड़ित ने थाना सेक्टर 39 में इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया.

एसपी ने बताया कि कुछ और लोगों ने भी पुलिस से शिकायत की है, जिन्हें इन लोगों ने अपने चंगुल में फंसा कर मोटी रकम उगाही है. पुलिस के अनुसार अभी तक दो दर्जन से ज्यादा लोगों से उगाही करने का मामला संज्ञान में आया है. काफी लोग अब भी इस मामले में शिकायत करने से झिझक रहे हैं, क्योंकि यह लोग ज्यादातर अधेड़ और बुजुर्ग लोगों को अपना शिकार बनाते थे.

पुलिस के अनुसार, पीड़ित लोग बदनामी और जेल जाने के डर से इनके द्वारा मांगी गई रकम को देकर अपनी जान बचा लेते थे. अभी कुछ लोग ऐसे हैं जो अपनी बदनामी की वजह से खुलकर सामने नहीं आ रहे हैं. मालूम हो कि कुछ महिलाए कार में लिफ्ट लेकर कार चालक पर बलात्कार का झूठा आरोप लगाती थी, उसके बाद इस गिरोह के लोग उनसे मोटी रकम वसूलते थे.

मंगलवार को नोएडा पुलिस ने कार्रवाई करते हुए इस गिरोह में शामिल सेक्टर 44 चौकी प्रभारी सुनील शर्मा, तीन सिपाही, दो महिलाओं सहित 15 लोगों को गिरफ्तार किया था.