पुरुलिया पहुंचकर योगी ने लगाए 'जय श्री राम' के नारे, कहा - गर्व से कहिये हम हिंदू हैं

 पुरुलिया में  मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अपने भाषण की शुरुआत 'जय श्री राम' का नारा लगाकर की.

पुरुलिया पहुंचकर योगी ने लगाए 'जय श्री राम' के नारे, कहा - गर्व से कहिये हम हिंदू हैं
योगी इस बार झारखंड के रास्‍ते पश्‍च‍िम बंगाल के पुरुलिया पहुंचे...(फोटो: ANI)

कोलकाता: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को लगातार दूसरी बार बंगाल में अपना हेलिकॉप्‍टर उतारने की इजाजत नहीं मिली. ऐसे में योगी इस बार झारखंड के रास्‍ते पश्‍च‍िम बंगाल के पुरुलिया पहुंच गए. झारखंड में पहले योगी का चॉपर उतरा, उसके बाद वह बोकारो होते हुए पुरुलिया पहुंचे. पुरुलिया में उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत 'जय श्री राम' का नारा लगाकर की. योगी ने कहा मंच से कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि गर्व से कहिये हम हिंदू हैं.

योगी ने अपने भाषण की शुरुआत में कहा, "मैं बंगाल की धरती को नमन करता हूं, जिस धरती ने विपरीत परिस्थितियों में इस देश को संबल दिया था. यह बंगाल की ही धरती है, जिसने रामकृष्ण परमहंस जी जैसे आध्यात्मिक साधक दिया था. मुझे आश्चर्य होता है कि बंगाल की धरती तो वास्तव में भारतीय जनता पार्टी की धरती होनी चाहिए, क्योंकि बीजेपी पूर्व जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष, डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी इसी बंगाल की धरती की देन थे." 

 

योगी ने कहा, "मोदी जी नेतृत्व के बाद देश में परिवर्तन आया हैं." सीएम योगी ने ममता सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा, "टीएमसी के गुंडे पैसा खा जाते हैं. सरकर विकास के बारें में सोचना नहीं चाहती. मुख्यमंत्री ममता शारदा चिटफंड से जुड़े लोगों को बचाने का प्रयास कर रही हैं. बीजेपी की सरकार जब पश्चिम बंगाल में आएगी, तब टीएमसी के गुंडे वैसे ही तख्ती लगाकर चलेंगे जैसे यूपी में सपा के गुंडे गले में तख्ती लगा के घूम रहें हैं."

 
योगी ने आगे कहा, "जैसे बीजेपी के कार्यकर्ताओ पर हमले हो रहें हैं, उसके खिलाफ खड़ा होना पड़ेगा. टीएमसी के की गुंडों और भ्रष्टाचार से पश्चिम बंगाल को मुक्त कराना हैं." योगी ने कहा, "ममता सरकार अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक काम कर रही है और यही वजह है कि मुझ जैसे 'सन्यासी' और 'योगी' को बंगाल की जमीन में उतरने की अनुमति नहीं दे रही."

 

योगी ने सवाल उठाते हुए कहा कि ममता सरकार राज्य में मोहर्रम की अनुमति देती हैं लेकिन दुर्गा पूजा के लिए अनुमति क्यों नहीं देती. उन्होंने कहा कि बीजेपी शासित राज्यों में कोई भी दुर्गा पूजा, शिवरात्रि और जन्माष्टमि का उत्सव मनाने से रोक नहीं सकता. तृणमूल पार्टी की भ्रष्ट सरकार ने लोगों को जश्न मनाने से रोक रही है.