योगी सरकार के मंत्री ने कहा, 'अमित शाह से बात किए बिना राज्यसभा चुनाव में समर्थन नहीं'

राजभर ने कहा कि राज्यसभा उम्मीदवारों पर योगी सरकार ने खुद ही फैसला कर लिया हमसे कोई बातचीत नहीं की गई है.

योगी सरकार के मंत्री ने कहा, 'अमित शाह से बात किए बिना राज्यसभा चुनाव में समर्थन नहीं'
सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और योगी सरकार में मंत्री ओपी राजभर बीजेपी से चल रहे हैं नाराज (फाइल फोटोः एएनआई)

लखनऊः ज़ी मीडिया से बात करते हुए योगी सरकार के मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने आगमी राज्यसभा चुनावों में बीजेपी को समर्थन करने के सवाल पर कहा कि जब तक बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से बात नहीं होगी तब तक इस विषय पर कुछ नहीं कह सकता हूं. उन्होंने कहा कि योगी सरकार हमारे साथ सौतेला व्यवहार कर रही है. राजभर ने कहा कि राज्यसभा उम्मीदवारों पर योगी सरकार ने खुद ही फैसला कर लिया हमसे कोई बातचीत नहीं की गई है.

इससे पहले उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की पहली वर्षगांठ के जश्न में सोमवार को उसके सहयोगी दल SBSP ने शिरकत नहीं की और पार्टी प्रमुख ओपी राजभर ने कहा कि मथुरा और काशी से किसी भी समस्या का समाधान नहीं होगा. राज्य के पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री और एसबीएसपी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने योगी सरकार की पहली सालगिरह के जश्न से दूरी बनाये रखने के बारे में यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने इस सरकार को बनाने में मदद की और उसकी कमियों को भी बताना हमारा कर्तव्य है....जश्न मनाने से कोई मकसद नहीं हल होगा. मथुरा और काशी में मंदिर बनाने से गरीबों को शिक्षा नहीं मिलेगी, ना ही उन्हें पेंशन मिलेगी.’’ 

यह भी पढ़ेंः 'BJP नहीं निभा रही है गठबंधन धर्म, 325 सीट के नशे में पागल होकर घूम रहे हैं': UP के मंत्री का बयान

उन्होंने योगी सरकार की पहली वर्षगांठ के बारे में कहा, ‘‘उन्हें जश्न मनाने दीजिये. जब तक राशन कार्ड, आवास, शिक्षा, दवा और अन्य मुद्दों से जुड़े सवालों का जवाब नहीं मिलता, तब तक मैं इसमें हिस्सा नहीं लूंगा.’’  राजभर ने आगाह किया कि अगर ‘बड़ा भाई‘ यानी भाजपा सुभासपा की समस्याओं को नहीं सुलझाएगी तो वह आगामी राज्यसभा चुनाव का बहिष्कार करेगी.

यह भी देखें, VIDEO, योगी के मंत्री ने अपने ही समाज के लिए दिया विवादित बयान

राजभर ने राज्यसभा चुनाव में उनके सपा या बसपा के साथ जाने के सवाल पर कहा कि उनकी इन दोनों दलों से कोई बात नहीं हुई है. इस बीच, राजभर से रविवार को मुलाकात करने गए प्रदेश की योगी सरकार के वरिष्ठ मंत्री सुरेश खन्ना ने उनकी शिकायतों के बारे में ज्यादा कुछ नहीं बताया. उन्होंने कहा कि हम सरकार के सदस्य हैं और विभिन्न विषयों को लेकर अक्सर मिलते रहते हैं. इसमें नया कुछ भी नहीं है.

(इनपुट भाषा से)