close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ZEE जानकारी: टीवी दर्शकों के लिए जरूरी है TRAI के नए नियमों को जानना

TRAI यानी Telecom Regulatory Authority of India के नए नियम एक फरवरी से लागू हो चुके हैं.

ZEE जानकारी: टीवी दर्शकों के लिए जरूरी है TRAI के नए नियमों को जानना

लोकसभा चुनाव नज़दीक हैं. और चुनाव के समय सबसे महत्वपूर्ण होते हैं न्यूज़ चैनल्स. ये ऐसा समय है कि जब आपको दिन भर की सभी खबरों पर लगातार Updates की ज़रूरत होगी. आपको विश्वसनीय रिपोर्टिंग और चुनावी ख़बरों के सही विश्लेषण की ज़रूरत होगी. और ऐसे में.. आप ज़ी न्यूज़ को Miss नहीं करना चाहेंगे. 

TRAI यानी Telecom Regulatory Authority of India के नए नियम एक फरवरी से लागू हो चुके हैं. लेकिन हो सकता है कि अभी तक आपको ये नियम समझ में ना आए हों और आपने TRAI के नए नियमों के तहत ज़ी न्यूज़ का चुनाव न किया हो. अगर ऐसा है तो आपको जल्द से जल्द ज़ी न्यूज़ का चुनाव करना चाहिए. अगर आपने सही फैसला नहीं किया तो हमारा और आपका साथ छूट जाएगा और आप ज़ी न्यूज़ नहीं देख पाएंगे. लेकिन आज हमारा ये विश्लेषण देखने के बाद आप सवा रुपये से भी कम कीमत पर... पूरे साल ज़ी न्यूज़ देख सकते हैं. ऐसा कैसे संभव होगा.. ये हम आपको आगे बताएंगे.

TRAI के नए नियमों को लेकर लोगों के मन में कई शंकाएं हैं. कई लोग ये सोच रहे हैं कि इन नये नियमों से टीवी देखना महंगा हो जाएगा. लेकिन ये बात सही नहीं है. क्योंकि इससे टीवी देखना महंगा नहीं बल्कि सस्ता होगा. TRAI के नए नियमों से जुड़े हुए बहुत से ऐसे सवाल हैं, जिनके जवाब लोगों को पता नहीं है. लोगों को ये समझ में नहीं आ रहा है कि वो अपना अलग पैक कैसे चुनेंगे? उन्हें ये नहीं पता कि वो जिस पैक को चुनेंगे, उसके कितने पैसे उन्हें देने पड़ेंगे? 

ये भी सवाल है कि अगर किसी उपभोक्ता ने एडवांस में ही एक साल की Payment अपने DTH या केबल ऑपरेटर को कर दी है, तो आगे क्या होगा? क्या उसके पैसे वापस हो जाएंगे, या वो पैसे नए पैक के हिसाब से Adjust हो जाएंगे. आज हम अपने विश्लेषण में आपके इन सभी सवालों के जवाब सरल भाषा में देंगे. आज आप ये बात ज़रूर याद रखिएगा कि आप ये विश्लेषण ज़ी न्यूज़ पर देख रहे हैं और आगे ऐसे तमाम विश्लेषण देखते रहने के लिए आपको ज़ी न्यूज़ को चुनना होगा. ये आपकी जागरूकता के लिए बहुत ज़रूरी है.

सबसे पहले आपको ये समझना होगा कि इन नये नियमों की या इस नये सिस्टम की ज़रूरत क्यों पड़ी? 

और इसके लिए आपको इसका Background समझना होगा. 

मार्च 2017 में सरकार ने केबल टीवी नेटवर्क का Digitalisation किया था. और तब इसका मकसद ये था कि उपभोक्ताओं को अपने पसंद के चैनल चुनने का पूरा अधिकार मिले. 

जिस चैनल को उपभोक्ता नहीं देखते हैं, उसे देखने के लिए उन्हें पैसे न देने पड़ें. यानी कोशिश ये थी कि टीवी पर आप क्या देखना चाहते हैं, इसका पूरा अधिकार आपको दिया जाए. आप इसे टीवी देखने का स्वराज भी कह सकते हैं.

लेकिन DTH ऑपरेटर्स ने उपभोक्ताओं को विकल्प देने के नाम पर चैनलों के सिर्फ 3-4 अलग अलग Packs बना दिए, जिनमें से उपभोक्ताओं को कोई एक पैक चुनना पड़ता था और उसी के हिसाब से पैसे देने पड़ते थे. 

लेकिन इन Packs की कमी ये थी कि उपभोक्ताओं को उन चैनलों का पैसा भी देना पड़ता था, जिन्हें वो नहीं देखते थे. 

लेकिन अब TRAI ने सही मायने में उपभोक्ताओं को सारे अधिकार दे दिये हैं. 

इसके लिए TRAI ने नया Framework तैयार किया है. 

जिसके तहत हर केबल या DTH ऑपरेटर को 100 Free to Air Channels का एक Base Pack बनाना होगा. जिसकी कीमत 130 रुपये या उससे कम रखनी होगी. इस पर 18% GST अलग से लगेगा. 

और अगर आपको कोई Pay चैनल देखना है, तो आप अपनी पसंद के उन Pay Channels को चुन सकते हैं, जिन्हें आप देखना चाहते हैं. 

TRAI की लिस्ट के हिसाब से 330 Pay Channels हैं और 535 Free to Air Channels हैं. इनमें से चैनलों का चुनाव करके आप खुद, अपने लिए अपना अलग Pack बना सकते हैं. 

TRAI ने एक वेबसाइट बनाई है, www. channel tariff. trai. gov. in और इस वेबसाइट पर जाकर आप हर चैनल का रेट चेक कर सकते हैं, इससे आपको पता चलेगा कि कौन सा चैनल देखने के लिए आपको कितने रुपये देने पड़ेंगे.

इसमें जो दाम होगा, वो MRP यानी Maximum Retail Price होगा. चैनल, केबल टीवी या DTH Operators, इससे ज्यादा कीमत नहीं वसूल पाएंगे. हालांकि अगर वो चाहें तो इस कीमत पर आपको डिस्काउंट ज़रूर दे सकते हैं. 

अब सवाल ये है कि Free To Air वाली श्रेणी के 100 Channels का चुनाव करने की आज़ादी आपको मिलेगी या नहीं?

इसका जवाब ये है कि आप 535 Free to Air Channels में से अपनी पसंद के 100 चैनल चुन सकते हैं. ऑपरेटर आपको एक Base Pack बनाकर देगा, लेकिन ऑपरेटर के Channel Pack में से आप कोई भी चैनल हटा सकते हैं या जोड़ सकते हैं. लेकिन ये सभी चैनल मिलाकर 100 से ज्यादा नहीं होने चाहिएं. 

अगर आपको 100 से ज्यादा Free to Air Channels चाहिएं, तो उसके लिए आप 20 रुपये अतिरिक्त देकर 25 अतिरिक्त चैनलों का पैक ले सकते हैं. 

लेकिन अब सवाल उन उपभोक्ताओं का भी है, जिन्होंने पूरे साल भर का पैसा एक साथ अपने ऑपरेटर को दे दिया है. उनके इस पैसे का क्या होगा?

इसका जवाब ये है कि जिस पैक को आपने चुना है, वो उस तारीख तक चलता रहेगा, जिस तारीख तक के आपने पैसे दिए हुए हैं. उसमें कोई बदलाव नहीं होगा. 

हालांकि ग्राहकों के पास ये विकल्प है कि वो चाहें तो नए सिस्टम में Switch कर सकते हैं. उस स्थिति में जो आपका Balance होगा, वो नए सिस्टम के हिसाब से Adjust किया जाएगा. 

अगर आपके मन में इससे जुड़ी कोई शंका या समस्या है तो एक Helpline Number पर फोन कर सकते हैं, ये TRAI का नंबर है :- 
0120-6898689

लोगों के मन में ये शंका है कि TRAI के इन नए नियमों के लागू होने के बाद आपके टीवी देखने का बिल बढ़ जाएगा. 

लेकिन ये खबरें पूरी तरह से सही नहीं हैं. हम ऐसा क्यों कह रहे हैं अब आपको ये समझाते हैं. 

एक आंकड़े के अनुसार 80% उपभोक्ता 40 या उससे भी कम चैनल देखते हैं. 

इन 40 Channels में से कई चैनल ऐसे होंगे जो 130 रुपये के आपके Free to Air वाले Basic Pack में शामिल हो जाएंगे. और उसके लिए आपको अलग से कोई पैसे नहीं देने पड़ेंगे. 

बाकी बचे हुए Channels भी बहुत ही कम कीमत देकर आप अपने पैक के साथ जोड़ सकते हैं. 

तो सही मायने में जब आप अपनी पसंद के Channels का एक Pack बनाएंगे, तो ज्यादातर मामलों में उस पैक की कीमत.. अब तक दी जाने वाली कीमत से कम होगी

उदाहरण के तौर पर Zee News देखने के लिए आपको सिर्फ 10 पैसे प्रति महीने देने होंगे. यानी पूरे साल, 365 दिन ज़ी न्यूज़ देखने का खर्च सिर्फ 1 रुपये 20 पैसे होगा. 

इतनी ही कम कीमत पर आप Zee Network के अन्य News Channels भी अपने पैक में जोड़ सकते हैं. 

इसी तरह Zee TV देखने के लिए आपको हर महीने 19 रुपये देने पड़ेंगे. इस तरह अलग अलग चैनल्स की अलग अलग कीमत चुकाई जा सकती है.

लेकिन इससे भी ज्यादा समझदारी की बात ये होगी कि आप 23 चैनल वाला Zee Family Pack लीजिए. इस पैक के लिए आपको हर महीने सिर्फ 39 रुपये चुकाने होंगे. और ऐसा करने पर आप अपने पसंदीदा न्य़ूज़ चैनल ज़ी न्यूज़ के साथ साथ ज़ी नेटवर्क के बाकी चैनल्स भी देख पाएंगे

यहां हम आपको एक बार फिर याद दिलाना चाहते हैं कि Zee News देखने के लिए आपको सिर्फ 10 पैसे प्रति महीने देने होंगे. यानी पूरे साल, 365 दिन ज़ी न्यूज़ देखने का खर्च सिर्फ 1 रुपये 20 पैसे होगा. यानी आप सवा रुपये से भी कम कीमत पर पूरे साल ज़ी न्यूज़ देख सकते हैं. अक्सर लोग ये सोचते हैं कि Pay Channels महंगे होते हैं. लेकिन हमारा विश्लेषण देखने के बाद आपको इस बात का एहसास हो गया होगा कि ये बात सच नहीं है. हम Pay चैनल तो हैं, लेकिन हम आपसे सिर्फ 10 पैसे प्रति महीने का शुल्क लेते हैं. 

ज़ी न्यूज़ आपके अधिकारों की बात करता है, राष्ट्रवाद की बात करता है. आप खुद ही सोचिए कि क्या राष्ट्रहित की रक्षा करने वाली और देश को बेहतर बनाने वाली पत्रकारिता के लिए आप एक साल में 1 रुपये 20 पैसे नहीं दे सकते? ये शुल्क एक कप चाय की कीमत से भी कई गुना कम है. 

एक चाय 10 रुपये की है
एक सिगरेट 10 से 16 रुपये
एक पान मसाले की कीमत 5 रुपये से 20 रुपये

हम और आप एक परिवार हैं.. TRAI के नये नियम, हमारा और आपका रिश्ता नहीं तोड़ सकते. इसलिए आप ज़ी फैमिली पैक को चुनिए. ये फैमिली पैक हमें और आपको, एक परिवार की तरह जोड़ देगा.