ZEE जानकारी: साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने गोडसे को देशभक्त क्यों कहा?

अब हम 135 करोड़ भारतीयों के राष्ट्रपिता... महात्मा गांधी के हत्यारे को देशभक्त मानने वाली दूषित सोच का विश्लेषण करेंगे .महात्मा उस व्यक्ति को कहा जाता है, जिसके जीवन से आप बहुत कुछ सीख सकते हैं . 

ZEE जानकारी: साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने गोडसे को देशभक्त क्यों कहा?

अब हम 135 करोड़ भारतीयों के राष्ट्रपिता... महात्मा गांधी के हत्यारे को देशभक्त मानने वाली दूषित सोच का विश्लेषण करेंगे .महात्मा उस व्यक्ति को कहा जाता है, जिसके जीवन से आप बहुत कुछ सीख सकते हैं . और सच्चा महात्मा वो होता है जिसकी कहानी उसके जीवन के बाद भी लोगों को सही रास्ते पर चलने की शिक्षा देती है. महात्मा गांधी के विचारों ने दुनिया भर के लोगों को सत्य, अहिंसा, सत्याग्रह और करुणा का विचार अपनाने के लिए प्रेरित किया . बड़े बड़े हथियारों से लैस अंग्रेज़ों के सामने वो दीवार बनकर खड़े हो गये थे . और अपने दम पर उन्होंने भारत को 200 वर्षों की गुलामी से मुक्ति दिला दी.

दुनिया का शायद ही ऐसा कोई देश हो... जहां गांधी जी के नाम पर किसी स्थान का नाम ना हो . इसलिए आज महात्मा गांधी... एक Global Brand बन चुके हैं .प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी पूरी दुनिया में बापू के विचारों की बात करते हैं . गांधी जी के नाम पर ही.. देश को साफ सुथरा बनाने के लिए स्वच्छ भारत अभियान लॉन्च किया गया है . इस वर्ष महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाई गई और इतने वर्ष बीतने के बाद भी उनके विचार आज भी प्रासंगिक है . प्रधानमंत्री मोदी... गांधी जी के मार्ग-दर्शन का इस्तेमाल करके भारत को New India बनाना चाहते हैं .

लेकिन प्रधानमंत्री मोदी की ही पार्टी की एक सांसद, साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर... महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त कहती हैं. देश के राष्ट्रपिता का हत्यारा कभी देशभक्त नहीं हो सकता है. देश के लिए लाखों देशभक्तों ने बलिदान दिया था... इसलिए ये महात्मा गांधी के साथ साथ... एक पवित्र शब्द, देशभक्त का भी अपमान है. वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान साध्वी प्रज्ञा ने ऐसा ही बयान दिया था.

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने उस वक्त कहा था कि- मैं उनको कभी दिल से माफ नहीं करूंगा . अब दूसरी बार विवादित बयान देने के बाद सरकार और बीजेपी दोनों ने साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ सख्त कार्रवाई की है . लेकिन ये गलती क्षमा करने योग्य नहीं है..इसलिए साध्वी प्रज्ञा को तत्काल पार्टी से निकाल दिया जाना चाहिए.

महात्मा गांधी के नाम का राजनीतिक इस्तेमाल करनेवाली कांग्रेस पार्टी इस मौके का इस्तेमाल Fake News फैलाने के लिए कर रही है... कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया है कि प्रज्ञा सिंह ठाकुर जो कह रही हैं, वही बात बीजेपी और आरएसएस के दिल में है. राहुल लगातार बीजेपी और आरएसएस के खिलाफ ऐसे आरोप लगाते रहे हैं. इसलिए आपको ये मालूम होना चाहिए कि इसकी सच्चाई क्या है... और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे के बारे में आरएसएस की सोच क्या है?

30 जनवरी 1948 के दिन गांधी जी की हत्या के एक दिन बाद संघ के दूसरे सरसंघचालक, एम एस गोलवलकर ने तत्कालीन प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को एक पत्र भेजा था.इसमें उन्होंने लिखा था... किसी अविचारी भ्रष्ट हृदय व्यक्ति ने पूज्य महात्मा जी पर गोली चलाकर उस महापुरुष के आकस्मिक असामयिक निधन का घृणित काम किया है. 31 जनवरी को संघ ने अपनी देशभर की सभी शाखाओं को 13 दिन तक सभी कार्यक्रम स्थगित करने का निर्देश दिया था.

देश के सामने आज दो बातें गलत तरीके से रखी जा रही हैं... पहला... गांधी जी के हत्यारे के साथ बीजेपी और आरएसएस का नाम जोड़ा जा रहा है. और दूसरा, गांधी जी के हत्यारे की तारीफ करने वाली सांसद के लिए Social Media पर मुहिम चलाई जा रही है. आज Twitter पर #Well_Done_Pragya... Trend कर रहा है. और ये हमारे देश के लिए शर्म की बात है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.