close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ZEE Jankari : PM मोदी और राहुल गांधी की सोशल मीडिया वाली लड़ाई का DNA टेस्‍ट

फेसबुक पर भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सबसे आगे हैं. नरेन्द्र मोदी के 4 करोड़ 34 लाख Followers हैं. जबकि राहुल गांधी के सिर्फ 22 लाख Followers हैं.

ZEE Jankari : PM मोदी और राहुल गांधी की सोशल मीडिया वाली लड़ाई का DNA टेस्‍ट

आज हम नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी की सोशल मीडिया वाली लड़ाई का एक LIVE... DNA टेस्ट करेंगे. सबसे पहले नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के Twitter, फेसबुक और Instagram वाले Followers की बात करते हैं. Twitter पर सबसे बड़ा कद है प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का. उनके साढ़े 4 करोड़ से ज्यादा Followers हैं, जबकि Twitter पर राहुल गांधी के 82 लाख से ज्यादा Followers हैं. यानी करीब पांच गुना फर्क है. Twitter के बाद अब Facebook के Followers की बात करते हैं.

फेसबुक पर भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सबसे आगे हैं. नरेन्द्र मोदी के 4 करोड़ 34 लाख Followers हैं. जबकि राहुल गांधी के सिर्फ 22 लाख Followers हैं. अब Instagram की बात करते हैं. Instagram पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 1 करोड़ 64 लाख और राहुल गांधी के 4 लाख 96 हज़ार Followers हैं. यानी Followers की संख्या के पैमाने पर, नरेन्द्र मोदी, राहुल गांधी से बहुत आगे हैं.

अब यहां ये जानना भी ज़रूरी है कि इन नेताओं के किसी Tweet या फेसबुक पोस्ट को कितने लोग Like, Comment या Share करते हैं. सोशल मीडिया की भाषा में इसे Engagement कहा जाता है. आप चाहें तो इसे प्रतिक्रिया भी कह सकते हैं. हमने Twitter के 24 दिसंबर 2018 से लेकर 31 दिसंबर 2018 तक के एक हफ्ते के Data का विश्लेषण किया और इसमें भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सबसे आगे हैं.

नरेन्द्र मोदी के Tweets का Engagement हर रोज़ एक लाख 60 हज़ार से ज्यादा होता है. यानी उनके Tweets पर हर दिन 1 लाख 60 हज़ार बार Like, Comment या Retweets होते हैं. जबकि राहुल गांधी के लिए यही आंकड़ा 29 हज़ार है. यानी एक दिन में नरेन्द्र मोदी के किसी Tweet पर राहुल गांधी के मुकाबले 5 गुना ज्यादा प्रतिक्रियाएं आती हैं.

इसी तरह से नरेन्द्र मोदी के Tweets पर एक हफ्ते में 12 लाख बार Like, Comment या Retweets मिलते हैं, जबकि राहुल गांधी के Tweets पर एक हफ्ते में सिर्फ 2 लाख 33 हज़ार Engagement होते हैं. अब बीजेपी और कांग्रेस के Tweets की बात कर लेते हैं. बीजेपी के Twitter Handle से होने वाले Tweets को एक हफ्ते में 5 लाख 8 हज़ार Like, Comment या Retweets मिलते हैं, जबकि कांग्रेस पार्टी के Twitter Handle से होने वाले Tweets पर एक हफ्ते में 2 लाख 6 हज़ार प्रतिक्रियाएं मिलती हैं.
 
Twitter के बाद अब फेसबुक की बात करते हैं. हमने फेसबुक के एक हफ्ते के Data का विश्लेषण किया है और ये Data 31 दिसंबर 2018 से लेकर 7 जनवरी 2019 के बीच का है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की फेसबुक Posts को एक दिन में 80 हज़ार 588 बार Like, Comment या Share किया जाता है, जबकि राहुल गांधी के लिए एक दिन का यही आंकड़ा 25 हज़ार 513 बार का है.

अगर एक हफ्ते की बात करें तो नरेन्द्र मोदी के फेसबुक Posts को एक हफ्ते में 6 लाख 44 हज़ार और राहुल गांधी के फेसबुक Posts को 2 लाख 4 हज़ार प्रतिक्रियाएं मिलती हैं. यानी फेसबुक पर नरेन्द्र मोदी की किसी Post पर राहुल गांधी के मुकाबले तीन गुनी ज्यादा प्रतिक्रियाएं आती हैं.
अपने इस रिसर्च के दौरान हमें एक और दिलचस्प आंकड़ा मिला.

Twitter पर नरेन्द्र मोदी अपनी पार्टी से भी ज़्यादा लोकप्रिय हैं, लेकिन फेसबुक पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मुकाबले उनकी पार्टी लोकप्रिय है. Twitter पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के Tweets को एक हफ्ते में 12 लाख प्रतिक्रियाएं मिलती हैं, जबकि उनकी पार्टी के Tweet को करीब 5 लाख से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिलती हैं. फेसबुक पर बीजेपी के Posts को एक हफ्ते में 8 लाख 22 हज़ार प्रतिक्रियाएं मिलीं. जबकि कांग्रेस की Posts को 1 लाख 38 हज़ार प्रतिक्रियाएं मिलीं.

वैसे इन आंकड़ों को देखकर हमारे बहुत से दर्शक ये भी कह सकते हैं कि चुनाव तो सोशल मीडिया पर नहीं होते? ये बात सही है, लेकिन सोशल मीडिया से देश की स्थिति का अंदाज़ा ज़रूर मिल जाता है. और सोशल मीडिया से ही देश में माहौल बनता है और तमाम सूचनाएं लोगों तक तेज़ी से पहुंचती हैं. इसलिए ये समझना भी ज़रूरी है कि देश के अलग अलग हिस्सों में सोशल मीडिया पर बीजेपी और कांग्रेस की क्या स्थिति है.

हमने बीजेपी और कांग्रेस पार्टी के Twitter के Data का विश्लेषण किया है और इसमें हमने इन पार्टियों के अलग अलग राज्यों के Official Twitter Handle का Data लिया है. सबसे पहले पूर्वी भारत की बात करते हैं, जिसमें ओडिशा और पश्चिम बंगाल हैं. यहां Twitter पर बीजेपी के 1 लाख 12 हज़ार Followers हैं जबकि उसके Tweets पर एक हफ्ते में 19 हज़ार 855 प्रतिक्रियाएं मिलती हैं.

जबकि इन दो राज्यों में कांग्रेस के Followers की संख्या 44 हज़ार है और उसके Tweets पर एक हफ्ते में 6 हज़ार 576 प्रतिक्रियाएं मिलती हैं. अब हिंदी हार्टलैंड की बात करते हैं, जिसमें उत्तर प्रदेश, मध्य़प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, बिहार और झारखंड शामिल है. इन राज्यों में Twitter पर बीजेपी के कुल 17 लाख Followers हैं, जबकि हर हफ्ते उसके Tweets पर 1 लाख 69 हज़ार से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिलती हैं.

इसी तरह से हिंदी हार्टलैंड में कांग्रेस के 5 लाख 21 हज़ार Followers हैं, और उसके Tweets पर एक हफ्ते में 1 लाख 22 हज़ार से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिलती हैं. हिंदी हार्टलैंड के अलावा इन दोनों पार्टियों के बीच पश्चिम भारत में कांटे की टक्कर हैं. पश्चिम भारत में गुजरात, महाराष्ट्र और गोवा आते हैं. इन तीनों राज्यों में Twitter पर बीजेपी के कुल 10 लाख 7 हज़ार Followers हैं, जबकि उसके Tweets पर एक हफ्ते में 46 हज़ार से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिलती हैं.

इन राज्यों में कांग्रेस के सिर्फ 2 लाख Followers हैं, और उसके Tweets को एक हफ्ते में 15 हज़ार से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिलती हैं. अगर पूरे देश की बात करें, तो बीजेपी के अलग अलग राज्यों के Twitter Hanldles के Followers की कुल संख्या 37 लाख है और एक हफ्ते में उसके Tweets को 3 लाख 21 हज़ार से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिलती हैं. जबकि पूरे देश में कांग्रेस के अलग अलग राज्यों के Twitter Handles के Followers की कुल संख्या सिर्फ 11 लाख है, और उसके Tweets को एक हफ्ते में करीब 1 लाख 67 हज़ार प्रतिक्रियाएं मिलती हैं. यानी Twitter की इस लड़ाई में बीजेपी, कांग्रेस से बहुत आगे है.