Zee Rozgar Samachar

ZEE जानकारी: दुनिया में 22 देश ऐसे हैं जिन्होंने तीन तलाक पर Ban लगाया है

दुनिया के नक्शे में Middle East के कई देश आपको नजर आ रहे होंगे, जहां इस्लाम के मुताबिक कानून बनाए गए हैं और Triple तलाक को प्रतिबंधित किया गया है . टर्की, ट्यूनीशिया, मोरक्को, सीरिया, Egypt, इराक़, क़तर, ईरान, UAE, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश और इंडोनेशिया में भी Triple तलाक की परंपरा को गैरकानूनी माना गया है .

ZEE जानकारी: दुनिया में 22 देश ऐसे हैं जिन्होंने तीन तलाक पर Ban लगाया है

दुनिया के इस नक्शे में आप देख सकते हैं.. कि कुल 22 देश ऐसे हैं जिन्होंने ट्रिपल तलाक की परंपरा पर Ban लगाया है . इस नक्शे में Middle East के कई देश आपको नजर आ रहे होंगे, जहां इस्लाम के मुताबिक कानून बनाए गए हैं और Triple तलाक को प्रतिबंधित किया गया है . टर्की, ट्यूनीशिया, मोरक्को, सीरिया, Egypt, इराक़, क़तर, ईरान, UAE, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश और इंडोनेशिया में भी Triple तलाक की परंपरा को गैरकानूनी माना गया है . आज दुनिया का ये नक्शा उन लोगों को जरूर देखना चाहिए, जो देश में अल्पसंख्यकों के अधिकारों के नाम पर मुस्लिम महिलाओं के हक का विरोध करते हैं .  

इन देशों में अलग अलग तरीकों से मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों को सुरक्षा दी गई है . 

पाकिस्तान ने भारत से अलग होने के 9 साल बाद यानी सन 1956 में ही ट्रिपल तलाक़ को खत्म कर दिया था. इसके पीछे की कहानी बहुत दिलचस्प है. सन् 1955 में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री मोहम्मद अली बोगरा ने.. अपनी पत्नी को तलाक दिए बिना.. अपनी सेक्रेटरी से शादी कर ली थी. इसके बाद वहां All Pakistan Women Association की तरफ से विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे. और इसी के बाद पाकिस्तान में ट्रिपल तलाक को खत्म करने पर बहस शुरू हुई. 

इसके बाद वर्ष 1956 में सात सदस्यों वाले एक कमीशन ने पाकिस्तान में ट्रिपल तलाक को खत्म कर दिया. 
कमीशन की तरफ से ये फैसला सुनाया गया कि पत्नी को तलाक कहने से पहले पति को Matrimonial and Family Court से तलाक का आदेश लेना होगा. इसके बाद 1961 में इसमें एक और बदलाव हुआ और फिर ये तय हुआ कि पति... तलाक के मामले पर बनाई गई एक सरकारी संस्था के चेयरमैन को नोटिस देगा. 

यानी पाकिस्तान ने ट्रिपल तलाक़ की समस्या को आज से 61 साल पहले ही पहचान लिया था.. लेकिन भारत को ये फैसला लेने में इतना लंबा समय लग गया. इसकी वजह है.. तुष्टीकरण की वो राजनीति.. जिसने भारत के मुसलमानों को सिर्फ एक वोट बैंक बनाकर रख दिया.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.