EXCLUSIVE रिपोर्ट: धर्म परिवर्तन के बाद निमिषा से फातिमा बनी ISIS आतंकी का बड़ा खुलासा

ये कहानी केरल में रहने वाली निमिषा और मेरिन की है. निमिषा हिंदू थी, जिसनें कुछ वर्ष पहले ईसा नाम के एक मुस्लिम युवक से निकाह कर लिया.

EXCLUSIVE रिपोर्ट: धर्म परिवर्तन के बाद निमिषा से फातिमा बनी ISIS आतंकी का बड़ा खुलासा

नई दिल्ली. आपको जानकर हैरानी होगी कि केरल बहुत अच्छे तरीके से कोरोना वायरस (Coronavirus) से निपट रहा है. वहां शुरू में जो तीन लोग इस Virus की चपेट में आए थे. उनके बारे में सारी जांच पड़ताल की गई और ये पता लगा लिया गया कि ये लोग कितने लोगों के संपर्क में आ चुके थे? इस Virus से पीड़ित एक व्यक्ति तो 162 लोगों से मिला था और सरकार ने उन सभी 162 लोगों का पता लगा लिया, लेकिन केरल की सरकार शायद ये पता नहीं लगा पा रही कि वहां कितने लोग जिहाद वाले Virus का शिकार हो चुके हैं. Corona Virus की तरह जिहाद वाला Virus भी बहुत खतरनाक है. ये Virus कैसे केरल के युवाओं को अपना शिकार बना रहा है, पेश है इस पर हमारी ये Ground Report.

ये कहानी केरल में रहने वाली निमिषा और मेरिन की है. निमिषा हिंदू थी, जिसनें कुछ वर्ष पहले ईसा नाम के एक मुस्लिम युवक से निकाह कर लिया और वो अपना धर्म बदलकर फातिमा बन गई. लेकिन कहानी यहां खत्म नहीं होती, क्योंकि उसका पति उसे अपने साथ अफगानिस्तान ले गया जहां ये दोनों आतंकवादी संगठन ISIS में शामिल हो गए. निमिषा फिलहाल अफगानिस्तान की एक जेल में बंद है और उसकी 3 साल की बच्ची दर-दर भटक रही है. निमिषा के पति का असली नाम बेक्सिन था. मूल रूप से वो भी ईसाई था, लेकिन उसने भी इस्लाम कबूल कर लिया और वो ईसा बन गया.

ये भी पढ़ें: पाक PM इमरान खान का झूठा अलाप, हमारे देश में जिहादी संस्कृति के लिए कोई जगह नहीं

निमिषा MBBS की पढ़ाई कर रही थी और वो डॉक्टर बनना चाहती थी, लेकिन लव जिहाद की वजह से वो आतंकवादी बन गई और अब वो अपनी जिंदगी जेल में गुज़ारने पर मजबूर है.

LIVE TV

इसी तरह केरल की ही मेरिन ने भी एक मुस्लिम युवक से शादी कर ली थी. मेरिन मूल रूप से ईसाई थी और वो याहिया नाम के युवक से शादी करने के बाद मरियम बन गई. याहिया भी पहले ईसाई था और उसने भी कुछ समय पहले इस्लाम कबूल कर लिया था. ये दोनों भी केरल से अफगानिस्तान चले गए थे और ISIS में शामिल हो गए.

मेरिन का पति याहिया अफगानिस्तान में सुरक्षा बलों के हाथों मारा गया है और निमिषा की तरह मेरिन भी अब जेल में बंद है. यानी पहले इन चारों से इस्लाम कबूल करवाया गया और फिर इनके मन में जिहाद का ज़हर भरकर इन्हें आतंकवादी बना दिया गया.

आपको जानकर हैरानी होगी कि निमिषा के भाई भारतीय सेना में मेजर के पद पर हैं और वो भी अपनी बहन को लव जिहाद का शिकार होने से रोक नहीं सके. यानी केरल में लव जिहाद और जबरन धर्म परिवर्तन अब युवाओं को आतंकवाद के रास्ते पर ले जा रहा है, लेकिन वहां की सरकार इसे रोकने के लिए कुछ नहीं कर पा रही.