#IndiaKaDNA: हमारा अपना कुछ नहीं, जो कुछ भी है लोक कल्याण के लिए है: योगी आदित्यनाथ

कोरोना के खिलाफ मार्च से ही तैयारी शुरू हो गई थी. यूपी में कोरोना के खिलाफ जांच के लिए उत्तर प्रदेश में 32 लैब हैं.

#IndiaKaDNA: हमारा अपना कुछ नहीं, जो कुछ भी है लोक कल्याण के लिए है: योगी आदित्यनाथ

नई दिल्ली: देश को दिशा देने वाले 'इंडिया का DNA' E-Conclave में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि कोरोना के खिलाफ समय से जो निर्णय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व में जो लिया है, उससे स्थिति काफी नियंत्रण में रही. प्रधानमंत्री जी का मार्गदर्शन हमारे लिए महत्वपूर्ण रहा है.

ये भी पढ़ें- #IndiaKaDNA में बोले सीएम योगी आदित्यनाथ, UP में चुनौती बना तबलीगी जमात

ये भी पढ़ें- #IndiaKaDNA: प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने के लिए कांग्रेस ने बसों की व्यवस्था की ही नहीं: सीएम योगी

ये भी पढ़ें- PHOTOS: सीएम योगी ने #IndiaKaDNA E-Conclave में इन मुद्दों पर की बेबाक बात

Zee News के एडिटर इन चीफ सुधीर चौधरी से बातचीत करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'कोरोना के खिलाफ मार्च से ही तैयारी शुरू हो गई थी. यूपी में कोरोना के खिलाफ जांच के लिए उत्तर प्रदेश में 32 लैब हैं.'

सीएम योगी ने कहा, "उत्तर प्रदेश में तबलीगी जमात चुनौती बना. तबलीगी जमात के लोगों ने बीमारी छिपाई. कानून के खिलाफ काम करने वालों को कीमत चुकानी होगी." 

योगी आदित्यनाथ ने कहा, "कोरोना संकट में कांग्रेस खानदान नजर नहीं आया, संकट में उनका खलनायिकी चरित्र देखने को मिला. कांग्रेस ने कहीं भी बसों की व्यवस्था नहीं की. हमने 15 हजार से ज्यादा बसों का इंतजाम किया. औरेया हादसे पर सियासत की गई. कांग्रेस शासित राज्यों ने कोरोना संक्रमण को बढ़ाया है."

VIDEO देखें:

CM योगी ने बातचीत के दौरान कहा, "कोरोना से लड़ने की रणनीति बनाई. यूपी में कोरोना मरीजों के लिए 1 लाख बेड मौजूद हैं. यूपी में 15 लाख लोगों के लिए क्वारंटीन सेंटर मौजूद हैं. कोरोना सदी की सबसे बड़ी आपदा है. 3 करोड़, 56 लाख महिलाओं के खाते में पैसा जमा कराया. 18 करोड़ लोगों को अनाज दिया. 86 लाख लोगों के खाते में एक-एक हजार रुपये भेजे." 

सीएम योगी ने आगे भी सावधान रहने की सलाह देते हुए कहा, "सभी लोग ध्यान रखें सार्वजनिक स्थानों पर निकलें तो मास्क जरूर लगाएं. यूपी में धार्मिक स्थलों और किसी जगह पर 5 से ज्यादा लोग जमा ना हों. दिल्ली-NCR में आवाजाही पर पाबंदी जरूरी है. आवागमन से संक्रमण का खतरा बढ़ता है."

सीएम योगी ने भविष्य की राजनीति को लेकर कहा, "अब झूठे वादों की राजनीति नहीं चलेगी. अब राजनीति में सत्य ही आधार होगा. कुछ लोग रद्दी की टोकरी में फेंके जा चुके हैं."  

ये वीडियो भी देखें- #IndiaKaDNA में योगी आदित्यनाथ ने बताया, Lockdown में कैसा रहा यूपी सरकार का काम? 

ये वीडियो भी देखें- #IndiaKaDNA योगी आदित्यनाथ ने बताया, UP में क्या खुलेगा क्या बंद?

ये वीडियो भी देखें- योगी आदित्यनाथ : 'उत्तर प्रदेश में बेहतर कोरोना वायरस का Result'