ZEE NEWS का जनसंवाद अभियान: पढ़ें कोरोना से जुड़े उन हर सवालों के जवाब जो हैं आपके मन में

कोरोना के खिलाफ युद्ध में जानकारी और जागरूकता ही सबसे बड़ा हथियार है, इसलिए ZEE NEWS ने सबसे बड़ा जनसंवाद अभियान शुरू किया है. 

ZEE NEWS का जनसंवाद अभियान: पढ़ें कोरोना से जुड़े उन हर सवालों के जवाब जो हैं आपके मन में
जनसंवाद अभियान का मकसद कोरोना और लॉकडाउन पर आपके यानी देश के 130 करोड़ लोगों के हर सवाल का जवाब देना है.

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के संक्रमण से देश को समाज को आपको बचाने के लिए देश के प्रधानमंत्री ने पूरे देश में लॉकडाउन का फैसला लिया. आप अपने-अपने घरों से ही कोरोना के ख़िलाफ़ देशव्यापी लड़ाई लड़ रहे हैं. जरूरी बात ये है कि कोरोना के खिलाफ युद्ध में जानकारी और जागरूकता ही सबसे बड़ा हथियार है. इसलिए ZEE NEWS ने सबसे बड़ा जनसंवाद अभियान शुरू किया है. 

इस सबसे बड़े जनसंवाद अभियान का मकसद कोरोना और लॉकडाउन पर आपके यानी देश के 130 करोड़ लोगों के हर सवाल का जवाब देना है. आप हमें ट्विटर, व्हाट्सऐप और एसएमएस के जरिए अपने सवाल भेजे. इस खास कार्यक्रम में हमने कोरोना पर आपकी हर शंका का समाधान करने की कोशिश की. हमारे पैनल में डॉ. पुनीत मिश्रा, प्रोफेसर कम्यूनिटी मेडिसिन, AIIMS, डॉ. उमेश वर्मा, CMD, आरोग्य हॉस्पिटल, अर्थशास्त्री योगन्द्र कपूर, संजीव चौबे, मेडिकल डायरेक्टर, सेंट माइकल ने हिस्सा लिया. आइये एक नजर सवाल-जवाब पर डाल लेते हैं:  

सवाल: एक हफ्ते से हल्की खांसी, हल्का बुखार है लेकिन सांस लेने में तकलीफ नहीं है तो क्या मुझे कोरोना टेस्ट करवाना चाहिए?
जवाब: खांसी, जुकाम, बुखार कई वजह से हो सकता है. सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक अगर आपकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री है, या आपके घर में कोई कोरोना पॉजिटिव सदस्य है, जिसकी देखभाल आप कर रहे हैं, या आप हेल्थ वर्कर हैं और अगर आप कोरोना पॉजिटिव अस्पताल में कार्यरत हैं आपको कोरोना टेस्ट करवाने की जरूरत है. अन्यथा आपको टेस्ट करवाने की जरूरत नहीं है. आपको अस्पताल जाने की जरूरत नहीं है.   

Jansamvad

सवाल: प्राइवेट नौकरी करता हूं, क्या लॉकडाउन के दौरान सैलरी मिलेगी? कर्ज की किश्तों के भुगतान में कोई राहत मिलेगी? 
जवाब: किसी ने अगर कोई बैंकिंग लेनदेन दिया है, तो उसे ईएमआई में बदला जा सकता है. इससे भार नहीं पड़ेगा. बैंक से लोन के रीस्ट्रक्चरिंग की बात करनी चहिए. बैंक के ऊपर पहले से ही दबाव है. बैंक पहले से ही संवेदनशील हैं. बैंक, आरबीआई और सरकार से लगातार बात कर रहे हैं. लोगों को लाभ मिलेगा.

सवाल: लॉकडाउन के दौरान कारोबार पूरी तरह ठप पड़ा है होम लोन की EMI कैसे भरेंगे? 
जवाब: बैंक आपके लोन की EMI को रीस्ट्रक्चर कर सकते हैं. आपको डिफॉल्ट होने से बचाया जाएगा. 

सवाल: क्या घर में जो पालतू जानवर हैं, उनसे कोरोना वायरस के फैलने का डर है?
जवाब: अभी तक ऐसा देखने को नहीं मिला. अगर कोई आदमी खांस या छींक रहा है, उसके संपर्क में आने पर कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव हो सकता है. थूक के कण, अगर शरीर के संपर्क में आते हैं, या हाथ के संपर्क में आते हैं और अपने हाथ को अगर आप अपने चेहरे पर ले जाते हैं तो आप कोरोना से पॉजिटिव हो सकते हैं. 

Jansamvad

सवाल: क्या चिकन खाने से कोरोना का संक्रमण हो सकता है?
जवाब: नहीं. खाने-पीने से कोरोना का संक्रमण नहीं होता. हां, फल, सब्जियां जो भी आप ले रहे हैं, उन्हें अच्छी तरह से धोकर खाएं. बासी सब्जियों से परहेज करें. 

सवाल: क्या अखबार से कोरोना वायरस फैल सकता है?
जवाब: अगर कई लोगों ने अखबार की सतह पर छींका है, तो कोरोना का संक्रमण हो सकता है. अगर आपका न्यूज पेपर वेंडर कोरोना पॉजिटिव है और वह अखबार पर खांसता है या छींकता है तो आपको संक्रमण हो सकता है. 

Jansamvad

सवाल: बाहर से मंगाई गई दवाइयों, सब्जियों को कैसे इस्तेमाल करें?
जवाब: कोरोना एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में दो तरीके से फैलता है. हर वस्तु पर यह वायरस अलग-अलग समय तक जिंदा रह सकता है. अगर आप बाहर से कोई चीज लाते हैं तो सबसे पहले आप अपने हाथ अच्छी तरह से धोएं. जिस थैले में सामान लाए हैं, उसे हटाकर अलग कर दें. थैले को धोने के लिए अलग कर दें. फिर दूध के पैकेट या सब्जियों को अच्छी तरह से धो लें. 

VIDEO भी देखें: