close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देश के इस राज्य में कंपनियों ने स्टॉफ से कहा, 'पानी नहीं है, घर से काम कीजिए'

आपने ऐसे तमाम संदेश पढ़े होंगे जिसमें पानी की बर्बादी करने के लिए मना किया जाता है और भविष्य में आने वाले परेशानियों से आगाह किया जाता है. लेकिन चेन्नई में कुछ ऐसा ही हुआ और यहां कंपनियों ने अपने स्टॉफ से पानी की कमी के कारण घर से काम करने के लिए कहा है.

देश के इस राज्य में कंपनियों ने स्टॉफ से कहा, 'पानी नहीं है, घर से काम कीजिए'

नई दिल्ली : आपने ऐसे तमाम संदेश पढ़े होंगे जिसमें पानी की बर्बादी करने के लिए मना किया जाता है और भविष्य में आने वाले परेशानियों से आगाह किया जाता है. लेकिन चेन्नई में कुछ ऐसा ही हुआ और यहां कंपनियों ने अपने स्टॉफ से पानी की कमी के कारण घर से काम करने के लिए कहा है. यह कोई कहानी नहीं बल्कि 100 फीसदी हकीकत है. चेन्नई के ओल्ड महाबलीपुरम में स्थित आईटी कंपनियों ने अपने स्टॉफ को घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) करने के लिए कहा है. दरअसल यहां सही तरह से पानी की आपूर्ति नहीं हो रही, इस कारण ऑफिस ऑपरेट करने में दिक्कत हो रही है.

5 हजार कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए कहा
कंपनियों ने अपने आईटी स्टॉफ से कहा है कि वे अपनी सुविधानुसार कहीं से भी काम कर सकते हैं. ऐसी आशंका है कि अगले 100 दिन कंपनियां पानी की कमी से जूझ सकती हैं. शहर में पिछले करीब 7 महीने से बारिश नहीं हुई है. इतना ही नहीं अभी चेन्नई में अगले महीने तक जल संकट से निपटने के लिए यहां पर बारिश के आसार भी कम ही हैं.  टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के अनुसार 12 आईटी कंपनी में काम करने वाले 5 हजार कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए कहा गया है.

पहले भी वर्क फ्रॉम होम दे चुकी हैं कंपनियां
इससे पहले आईटी कंपनियां अपने कर्मचारियों ने वर्क फ्रॉम होम करने के लिए कह चुकी हैं. उस समय निजी टैंकर संचालकों ने हड़ताल का ऐलान किया था. ओल्ड महाबलीपुरम में 600 आईटी और आईटीएएस फर्म हैं. कंपनियां पानी की खपत को कम करने के लिए काफी उपाय कर रही हैं. कुछ कंपनियों ने अपने कर्मचारियों से पीने का पानी खुद लाने के लिए कहा है. एक अनुमान के अनुसार ओल्ड महाबलीपुरम इलाके में गर्मियों के दौरान रोजाना 3 करोड़ लीटर पानी की जरूरत होती है, जिसमें से ज्यादातर पानी बाहर से मंगाया जाता है.