close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल ने 80 लोगों की नौकरी बचाई, अब 2000 लोगों को मिलेगा रोजगार

सभी युवा श्रीनगर स्थित एक BPO में काम कर रहे थे. क्लाइंट नहीं होने की वजह से कंपनी ने ब्रांच बंद करने का फैसला किया तो राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने तुरंत कंपनी को डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेशन का काम सौंप दिया.

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल ने 80 लोगों की नौकरी बचाई, अब 2000 लोगों को मिलेगा रोजगार
.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने प्रदेश में 80 लोगों की नौकरी बचाई. ये सभी लोग श्रीनगर में एक मल्टी नेशनल कंपनी के BPO में काम कर रहे थे. लेकिन, घाटी के हालात और बिजनेस क्लाइंट नहीं होने के बाद कंपनी ने यह ऑफिस बंद करने का फैसला किया. ऐसे में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने तुरंत कंपनी को डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेशन का काम सौंप दिया. जानकारी के मुताबिक, अगले 18 महीने में यहां करीब 2000 लोगों की नौकरी लगेगी. जहां ये लोग काम कर रहे थे वहां करीब 500  लोगों के काम करने की जगह है.

कंपनी ने फिलहाल काम करने वाले सभी एम्प्लॉय को तीन महीने तक सैलरी देने की बात कही है. प्रशासन का कहना है कि हमारा मकसद सभी लोगों की नौकरी को सुरक्षित रखना है. इसके लिए सभी जरूरी कदम उठाये जाएंगे. राज्य प्रशासन फिलहाल कंपनी को सरकार का काम देगा. इसके अलावा कंपनी के लिए क्लाइंट खोजने का भी काम करेगा. श्रीनगर के डिप्टी कमिश्नर ने खुद BPO सेंटर का दौरा किया और सभी कर्मचारियों को आश्वस्त किया कि उनकी हर संभव मदद की जाएगी.

इस पूरे मामले पर कंपनी की तरफ से बयान जारी किया गया है. इस बयान में कहा गया कि कंपनी का फोकस ग्राहकों के अनुभव को बेहतर करने पर है. श्रीनगर स्थित सेंटर से हम अपने BFSI क्लाइंट के लिए काम करते रहेंगे. प्रदेश के विकास के लिए हम लोकल अथॉरिटी के साथ मिलकर काम करते रहेंगे. जम्मू-कश्मीर और भारत में अपने बिजनेस के विस्तार के लिए कंपनी इच्छुक है. हमारी कोशिश देश के हर कोने तक पहुंचने की है.