नौकरियों के लिए CM योगी आदित्‍यनाथ का अब तक का सबसे बड़ा आदेश

लोकभवन में अधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री (CM) ने सभी विभागों से रिक्त पदों का विवरण मांगा, और सभी भर्ती आयोगों और बोर्ड की बैठक करने का निर्णय लिया.

नौकरियों के लिए CM योगी आदित्‍यनाथ का अब तक का सबसे बड़ा आदेश
योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (UttarPradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को वरिष्ठ अधिकारियों को सभी विभागों में रिक्त पदों में तीन महीने के अंदर भर्ती प्रक्रिया शुरू करने और छह माह में नियुक्ति पत्र बांटने के निर्देश दिए. एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि लोकभवन में अधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री ने सभी विभागों से रिक्त पदों का विवरण मांगा, और सभी भर्ती आयोगों और बोर्ड की बैठक करने का निर्णय लिया.

अगले तीन महीने में भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाए
उन्होंने कहा कि अब तक हुई तीन लाख भर्तियों की तरह ही पारदर्शी तरीके से अगले तीन महीने में भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाए और छह महीने में नियुक्ति पत्र बांटे जाएं. मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस प्रकार उप्र लोक सेवा आयोग से पारदर्शी व निष्पक्ष भर्तियां हुई हैं, उसी प्रकार पारदर्शी और निष्पक्ष तरीके से अन्य विभागों में तेजी से भर्तियां की जाएं.

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र: ब्यूरोक्रेसी में बड़ा फेरबदल, अमिताभ गुप्ता बने पुणे पुलिस कमिश्नर

भर्ती प्रक्रिया पर उप्र सरकार का जागना अच्छा संकेत: प्रियंका गांधी
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया को तीन महीने में आरंभ करने का निर्देश दिए जाने को अच्छा संकेत करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि इस मामले में प्रदेश को ‘गड्ढा मुक्त’ और ‘अपराध मुक्त’ करने के वादे की तरह तारीख पर तारीख नहीं मिलनी चाहिए.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘भर्ती प्रक्रिया में चयन व तैयारी में युवा और उसके पूरे परिवार की हाड़ तोड़ मेहनत लगती है. युवाओं की महाहुंकार के बाद सरकार का जागना अच्छा संकेत है. कृपा करके भर्ती की डेडलाइन का हाल प्रदेश को "गड्ढा मुक्त" और "अपराधमुक्त" करने की तरह न हो कि तारीख पर तारीख मिलती रहे.’’

भाजपा सरकार के कार्यकाल में बेरोजगारी बढ़ने का आरोप 
प्रवक्ता ने बताया कि अब तक हुई बड़ी सरकारी भर्तियों में एक लाख 37 हजार पुलिसकर्मियों की भर्ती हो चुकी है, इसके अलावा पचास हजार अध्यापकों की भर्ती हो चुकी है तथा एक लाख से अधिक अन्य विभागों में भर्ती हो चुकी हैं. गौरतलब है कि गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने भाजपा सरकार के कार्यकाल में बेरोजगारी बढ़ने का आरोप लगाते हुये धरना प्रदर्शन किया था.

(इनपुट भाषा )

VIDEO