बीजेपी के मुखौटे के तौर पर काम कर रहे हैं कर्नाटक के राज्यपाल: कांग्रेस

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि हम अमित शाह जी से जानना चाहते हैं कि अगर दो दल चुनाव के बाद गठबंधन के लिए साथ नहीं आ सकते तो आपने गोवा और मणिपुर में सबसे बड़ी पार्टी को किनारे कर कैसे सरकार बना ली? 

बीजेपी के मुखौटे के तौर पर काम कर रहे हैं कर्नाटक के राज्यपाल: कांग्रेस
(फोटो साभार - ANI)

नई दिल्ली: कर्नाटक के राज्यपाल वजूभाई वाला द्वारा बुधवार को भाजपा विधायक दल के नेता बी एस येदियुरप्पा को राज्य में सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने के बाद कांग्रेस ने बीजेपी पर बड़ा हमला बोला है. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि हम अमित शाह जी से जानना चाहते हैं कि अगर दो दल चुनाव के बाद गठबंधन के लिए साथ नहीं आ सकते तो आपने गोवा और मणिपुर में सबसे बड़ी पार्टी को किनारे कर कैसे सरकार बना ली? सुरजेवाल ने कहा कि कि राज्यपाल ने अपने पद को शर्मसार किया है. 

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'वजुभाई वाला ने राज भवन की गरिमा धूमिल की, संविधान और नियमों की अवहेलना की तथा भाजपा की कठपुतली के तौर पर काम किया.' उन्होंने कहा, 'राज्यपाल ने संविधान की बजाय 'भाजपा में अपने मालिकों' (मास्टर्स इन बीजेपी) की सेवा चुनी. ' सुरजेवाला ने कहा राज्यपाल वाला जी एक बीजेपी कार्यकर्ता के तौर पर काम कर रहे हैं वह संविधान की रक्षा करने वाले एक राज्यपाल के तौर पर व्यवहार नहीं कर रहे हैं. 

'बीजेपी के पास न बहुमत न जनमत'

कांग्रेस नेता रणदीप सुरेजवाला ने कहा कि आज पीएम मोदी और बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह के हस्तक्षेप से कर्नाटक के राज्यपाल ने संविधान की धज्जियां उड़ा दी. सुरजेवाला ने कहा कि राज्यपाल ने एक ऐसी बीजेपी को सरकार बनाने का न्यौता दिया है जिसके पास न बहुमत है और न जनमत है. बीजेपी को न कर्नाटक की जनता ने बहुमत दिया न उनके पास विधायकों का समर्थन है. कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के पास 117 विधायकों को स्पष्ट समर्थन है

बता दें कर्नाटक के राज्यपाल वजूभाई वाला ने बुधवार को भाजपा विधायक दल के नेता बी एस येदियुरप्पा को राज्य में सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया. राज भवन के एक पत्र के अनुसार, ‘मैं आपको ( येदियुरप्पा को ) सरकार बनाने के लिए और कर्नाटक के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के लिए आमंत्रित करता हूं.’

15 दिन के अंदर विश्वास मत हासिल करना होगा
वाला ने येदियुरप्पा से मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के 15 दिन के अंदर विश्वास मत हासिल करने को भी कहा. भाजपा महासचिव मुरलीधर राव ने संवाददाताओं को बताया कि येदियुरप्पा कल यहां सुबह नौ बजे शपथ लेंगे. 

कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए पुरजोर प्रयास करते हुए येदियुरप्पा और नवगठित जेडीएस - कांग्रेस गठबंधन के नेता एच डी कुमारस्वामी , दोनों ही राज्यपाल वाला से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश कर चुके हैं. 

गौरतलब है कि राज्य में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है. ऐसे में प्रदेश की 224 सदस्यीय विधानसभा में 222 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा को 104, कांग्रेस को 78 और जेडीएस+ को 38 सीटें मिली हैं. फिलहाल, बहुमत के लिए जादुई आंकड़ा 112 है.

(इनपुट - भाषा)