close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कर्नाटक का सियासी संकट: सदानंद गौड़ा बोले, 'BJP की इसमें कोई भूमिका नहीं'

केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने मंगलवार को कहा कि कर्नाटक में जारी सियासी संकट के लिए उनकी पार्टी जिम्मेदार नहीं है. 

कर्नाटक का सियासी संकट: सदानंद गौड़ा बोले, 'BJP की इसमें कोई भूमिका नहीं'
गौड़ा ने जोर देकर कहा कि विधायक अपनी इच्छा से त्यागपत्र दे रहे हैं.

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने मंगलवार को कहा कि कर्नाटक में जारी सियासी संकट के लिए उनकी पार्टी जिम्मेदार नहीं है. गौड़ा का यह पलटवार कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के उन आरोपों के जवाब में आया है जिसमें उन्होंने राज्य के सियासी संकट के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया है. 

गौड़ा ने कहा "शुरुआत में हमने सरकार बनाने की कोशिश की थी लेकिन उसके बाद हमने कोई प्रयास नहीं किया. कांग्रेस और जेडीएस विधायकों को अपनी पार्टी के नेताओं और सरकार पर भरोसा नहीं है. कांग्रेस या जेडीएस के किसी विधायक के पीछे हमारा कोई हाथ नहीं है." 

गौड़ा ने जोर देकर कहा कि विधायक अपनी इच्छा से त्यागपत्र दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि राज्य में सरकार बनाना उनकी पार्टी का अधिकार है. उन्होंने दावा करते हुए कहा, "दो निर्दलीय विधायकों ने कल ही हमारा समर्थन किया था, इस तरह से सदन में हमारी सदस्य संख्या 107 हो गई है. रोशन बेग के इस्तीफे के बाद उनकी सदस्य संख्या घटकर 102 हो गई है. इसलिए, राज्य में सरकार बनाने के लिए हमें एक मौका दिया जाना चाहिए." 

कर्नाटक संकट पर हंगामे से राज्यसभा दो बार स्थगित
इधर, कर्नाटक के राजनीतिक संकट की आंच दिल्ली में महसूस की जा रही है. हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही मंगलवार को दो बार स्थगित हुई. कांग्रेस सदस्यों ने कर्नाटक संकट पर सदन की आसंदी में आकर हंगामा किया और अस्थिरता के लिए भारतीय जनता पार्टी को जिम्मेदार ठहराया. 

उधर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कर्नाटक में उत्पन्न राजनीतिक संकट के लिए मंगलवार को कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने इस मुद्दे को कांग्रेस का 'आंतरिक मामला' करार दिया और कहा कि इसके लिए संसद में व्यवधान पैदा किया जा रहा है, जो ठीक बात नहीं है.

कर्नाटक स्‍पीकर ने कहा- 13 में से 8 के इस्‍तीफे नियम के मुताबिक नहीं
उधर, कर्नाटक के सियासी संकट के बीच विधानसभा के अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने बागी विधायकों के संबंध में गवर्नर को चिट्ठी लिखकर कहा कि कोई भी बागी विधायक मुझसे नहीं मिला. बागी 13 विधायकों में से 8 के इस्‍तीफे कानून के मुताबिक नहीं हैं. मैंने विधायकों को मिलने का वक्‍त दिया है. रमेश कुमार ने पत्रकारों से कहा कि गवर्नर ने एक अन्‍य पत्र में मुझे सूचित किया कि निर्दलीय नागेश ने मंत्री पद छोड़ दिया. मंत्री के मुद्दे पर मैं कुछ नहीं कर सकता.