close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

1518 MLA के साथ BJP ने कांग्रेस को पछाड़ा, 30 साल में पहली बार बनी नंबर-1

1989 में कांग्रेस 1877 विधायकों के साथ देश की सबसे बड़ी पार्टी थी लेकिन अब बीजेपी इस मामले में नंबर वन बन गई है. कांग्रेस के पास इस समय 727 विधायक हैं

1518 MLA के साथ BJP ने कांग्रेस को पछाड़ा, 30 साल में पहली बार बनी नंबर-1
कांग्रेस 14 से घटकर 3 राज्यों में सिमट गई है. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: कर्नाटक चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी बीजेपी देश में सबसे ज्‍यादा 1518 विधायकों वाली पार्टी बन गई है. कभी यह ताज कांग्रेस के सिर सजा था. 1989 में कांग्रेस 1877 विधायकों के साथ देश की सबसे बड़ी पार्टी बन गई थी लेकिन अब बीजेपी इस मामले में नंबर वन बन गई है. कांग्रेस के पास इस समय 727 विधायक हैं, जो सबसे कम संख्‍या है. 1974 में इसके पास 2253 विधायक हुआ करते थे. कांग्रेस विधायकों के मामले में हमेशा आगे रहती थी लेकिन 2014 के बाद बीजेपी के विधानसभा राज्‍यों में चुनाव जीतने से उसके विधायकों की संख्‍या में तेज बढ़ोतरी हुई है.

बीजेपी की 20 राज्‍यों में है सरकार
मोदी सरकार को 14 मई को चार साल पूरे हो गए. कर्नाटक में अगर बीजेपी की सरकार बनती है तो यह 21वां राज्य होगा जहां उसकी सरकार बनेगी. 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद 20 राज्यों में चुनाव हुए. इनमें से भाजपा ने 14 में सरकार बनाई है. पिछले 4 साल में बीजेपी-एनडीए 8 से बढ़कर 20 राज्यों में पहुंच चुके हैं. वहीं, कांग्रेस 14 से घटकर 3 राज्यों में सिमट गई है.

त्रिपुरा के साथ BJP की 20 राज्‍यों में सत्‍ता, यह करिश्‍मा करने वाली पहली पार्टी

2019 के लिए कमर कसी बीजेपी ने
2019 में लोकसभा चुनावों के लिए बीजेपी अपनी जमीन पुख्‍ता बना रही है. पार्टी के मुताबिक 2019 का लोकसभा चुनाव वह 2014 से बड़े जनादेश से जीतेगी. भाजपा ने 2019 के लिए '48 वर्ष बनाम 48 माह' का नारा दिया है. केंद्र सरकार 48 माह के कामकाज पर जनता का ध्यान खींचेगी. ऐसे में '48 साल की तुलना में 48 महीने' के कामकाज का ब्‍योरा लोगों के सामने रखा जाएगा.

चार साल में 14 राज्‍य, अब कर्नाटक की बारी
पिछले 4 साल में बीजेपी ने महाराष्ट्र, हरियाणा, झारखंड, जम्मू-कश्मीर, असम, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर, गोवा, गुजरात, हिमाचल, त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय में सरकार बनाई है. इसके साथ ही बिहार में भाजपा को हार मिली थी, लेकिन तकरीबन डेढ़ साल बाद ही उसका गठबंधन जदयू के साथ हो गया और बीजेपी यहां भी सत्ता में आ गई.