close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस मंत्री ने सिद्धारमैया पर फोड़ा हार का ठीकरा, 'उनके अति आत्मविश्वास ने हमें गिराया'

सिद्धारमैया को बादामी सीट से जीत हासिल हुई है, जबकि चामुंडेश्वरी से उन्हें हार मिली है. 

कांग्रेस मंत्री ने सिद्धारमैया पर फोड़ा हार का ठीकरा, 'उनके अति आत्मविश्वास ने हमें गिराया'
सिद्धारमैया अति आत्मविश्वास में थे : ऊर्जा मंत्री (फाइल फोटो)

बेंगलुरू: कर्नाटक के ऊर्जा मंत्री डी.के. शिवकुमार ने पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया पर अति आत्मविश्वास का आरोप लगाते हुए मंगलवार (15 मई) को कहा कि उन्हें दो विधानसभा सीटों से चुनाव नहीं लड़ने की सलाह दी गई थी, लेकिन वे नहीं माने. उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार के मामले में कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का 10 फीसदी भी नहीं किया. शिवकुमार ने कहा, "कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले तीन महीनों में यहां आकर और राज्य में चुनाव प्रचार कर अपना सर्वश्रेष्ठ दिया. लेकिन यह स्थानीय नेताओं के लिए अच्छा संकेत नहीं है कि वे अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों का रुझान नहीं समझ सके."

उन्होंने कहा कि दो जगह से चुनाव नहीं लड़ने की सलाह मिलने के बावजूद सिद्धारमैया ने बादामी और चामुंडेश्वरी विधानसभा से चुनाव लड़ा. उन्हें लगता था कि वे दोनों विधानसभाओं को अच्छी तरह जानते हैं.

कांग्रेस नेता ने जोर दिया, "यह निर्णय उन्होंने लिया था क्योंकि वे विधानसभाओं को बेहतर समझते थे. हम अति आत्मविश्वास में थे. अंदरुनी रूप से हमने उन्हें सिर्फ एक विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की सलाह दी थी."

यह पूछे जाने पर कि क्या सिद्धारमैया अति आत्मविश्वास से भरे थे, उन्होंने कहा, "बिल्कुल... यह सिद्धारमैया का आत्मविश्वास ही था जिसने हमें इस स्तर पर ला (गिरा) दिया."

सिद्धारमैया को बादामी सीट से जीत हासिल हुई है, जबकि चामुंडेश्वरी से उन्हें हार मिली है. शिवकुमार ने किसी मोदी लहर को भी नकारते हुए कहा, "उन्हें हमारी कमियों का फायदा मिला."

सिद्धारमैया बदामी सीट से जीते, चामुंडेश्वरी से हारे 
कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को बगलकोट जिले की बदामी सीट से चुनाव जीत गए, जबकि मैसुरू की चामुंडेश्वरी सीट से हार गए हैं. निर्वाचन आयोग की ओर से घोषित नतीजों के मुताबिक, सिद्धारमैया 1,696 वोटों के अंतर से बदामी सीट से जीते हैं. उन्होंने यहां भाजपा उम्मीदवार बी.श्रीरामुलू को हरा दिया है.

सिद्धारमैया चामुंडेश्वरी सीट से 36,042 वोटों के अंतर से जेडीएस के जी.टी.देवेगौड़ा से हार गए. इससे पहले सिद्धारमैया दोनों सीटों से पीछे चल रहे थे. वह बदामी सीट पर पहले आगे चल रहे थे, लेकिन बाद में पिछड़ गए थे. लेकिन अंतत: उन्होंने इस सीट पर जीत दर्ज की.