close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कर्नाटक LIVE : सीएम कुमारस्वामी ने विधानसभा में पेश किया विश्वासमत

कर्नाटक में सियासी गठजोड़ और हंगामे के बाद सीएम बने एचडी कुमारस्वामी आज विधानसभा में बहुमत साबित करने वाले हैं. 

कर्नाटक LIVE : सीएम कुमारस्वामी ने विधानसभा में पेश किया विश्वासमत
रमेश कुमार के स्पीकर बनते ही बीजेपी नेता येदियुरप्पा और सीएम कुमारस्वामी ने उन्हें बधाई दी. (फोटो साभार : ANI)

बेंगलुरु : कर्नाटक में सियासी गठजोड़ और हंगामे के बाद सीएम बने एचडी कुमारस्वामी आज विधानसभा में बहुमत साबित करने वाले हैं. स्वामी के फ्लोर टेस्ट से पहले विधानसभा के तौर पर कांग्रेस के रमेश कुमार को चुना गया. रमेश कुमार श्रीनिवासपुर से विधायक हैं. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने रमेश कुमार के निर्विरोध स्पीकर चुने जाने पर विपक्ष को भी धन्यवाद कहा.

जेडीएस और कांग्रेस गठबंधन की सरकार के फ्लोर टेस्ट के लिए बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा भी विधानसभा में मौजूद हैं.

 

 

कांग्रेस नेताओं ने की बैठक
विधानसभा में फ्लोर टेस्ट से पहले कांग्रेस नेताओं ने एक बैठक का आयोजन किया. इस बैठक में कांग्रेस के सभी नवनिर्वाचित विधायक और प्रदेश के मंत्री शामिल हुए.

 

 

 

बीजेपी उम्मीदवार ने हटाया अपना नाम
कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार के फ्लोर टेस्ट से पहले बीजेपी के कैंडिडेट के स्पीकर चुनाव में भी जोरआजमाइश की अटकलें लगाई जा रही थीं लेकिन अहम वक्त पर पार्टी ने अपने उम्मीदवार का नाम हटा लिया, जिससे कांग्रेस का रास्ता साफ हो गया. 

येदियुरप्पा के बहुमत साबित करने में असफल रहने के बाद कांग्रेस और जेडीएस ने सरकार बनाने का दावा किया था. चुनावी नतीजों के मुताबिक कांग्रेस के पास 78 विधायक हैं, जबकि कुमारस्वामी की जद (एस) के 36 और बसपा का एक विधायक हैं. गठबंधन ने केपीजेपी के एकमात्र विधायक और एक निर्दलीय विधायक के समर्थन का भी दावा किया है. कुमारस्वामी ने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी. 

शक्ति परीक्षण से पहले ही येदियुरप्पा ने दिया इस्तीफा
उल्लेखनीय है कि इससे पहले चुनावी नतीजे आने के बाद बीजेपी ने सरकार बनाने का दावा किया था. बीजेपी के बी. एस. येदियुरप्पा ने 17 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, लेकिन सदन में विश्वास मत हासिल करने से पहले ही उन्होंने इस्तीफा देने की घोषणा कर दी थी. शपथ लेने के बाद कुमारस्वामी ने विश्वास मत हासिल किये जाने के बारे में विश्वास जताया था.

डी.के. शिवकुमार चल रहे हैं नाराज
हालांकि कुमारस्वामी के विश्वास मत हासिल करने की संभावना है और उनके लिए मंत्रिमंडल का विस्तार मुश्किल साबित होने वाला है. ऐसा बताया जा रहा है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डी के शिवकुमार उपमुख्यमंत्री पद के लिए उनकी अनदेखी किये जाने से खुश नहीं है. पार्टी ने दलित चेहरा जी. परमेश्वर को उपमुख्यमंत्री बनाया है. शिवकुमार ने कहा था, ‘‘क्या यह उन लोगों के लिए एक समान है जो एक सीट जीतते है और या जो राज्य जीतते है. मैं संन्यास लेने के लिए राजनीति में नहीं आया हूं. मैं शतरंज खेलूंगा फुटबॉल नहीं.’’

स्वामी को मिला एक निर्दलीय विधायक का साथ
इस गठबंधन में कांग्रेस के 78 विधायक , कुमारस्वामी की अगुवाई वाली जद (एस) के 36 विधायक और बसपा का एक विधायक शामिल है.