close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस-JDS डील में पेंच: कुमारस्वामी को CM तो बड़े बेटे को डिप्टी सीएम देखना चाहते हैं देवगौड़ा!

चुनाव नतीजे आने के बाद कांग्रेस ने आगे बढ़कर जेडीएस को ना सिर्फ समर्थन किया था, बल्कि कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री पद भी ऑफर किया था.

कांग्रेस-JDS डील में पेंच: कुमारस्वामी को CM तो बड़े बेटे को डिप्टी सीएम देखना चाहते हैं देवगौड़ा!
देवगौड़ा ने बड़े बेटे के लिए मांगा डिप्टी सीएम का पद. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : कर्नाटक का 'नाटक' खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है. सत्ता के गलियारों से खबर आ रही है कि पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस अध्यक्ष एचडी देवगौड़ा अपने बड़े बेटे एचडी रावन्ना को कर्नाटक का उपमुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं. चुनाव नतीजे आने के बाद कांग्रेस ने आगे बढ़कर जेडीएस को ना सिर्फ समर्थन किया था, बल्कि कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री पद भी ऑफर किया था. देवगौड़ा के इस मांग के बाद जेडीएस और कांग्रेस पार्टी के बीच पेच फंसता दिख रहा है. 

दूसरी तरफ कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी बीजेपी बहुमत से महज सात सीट दूर है. विधायक दल के नेता चुने जाने के बाद येदियुरप्पा ने राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है.

ये भी पढ़ें: कर्नाटक: कांग्रेस ने 'लापता' विधायकों को लाने के लिए भेजे हेलिकॉप्टर

इससे पहले कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) के लिए चिंता बढ़ाने वाली खबर उस समय भी आई, कांग्रेस की बैठक से 25 विधायक नदारद रहे. वहीं नवनिर्वाचित एमबी पाटिल कांग्रेस की बैठक छोड़कर बाहर आ गए थे. एमबी पाटिल ने दावा किया है कि कांग्रेस के और भी छह विधायक उनके साथ हैं. जरूरत पड़ने पर वे छह विधायक भी कांग्रेस छोड़ देंगे. उधर, जेडीएस की बैठक में भी 2 नवनिर्वाचित विधायक नहीं पहुंचे हैं. जेडीएस की बैठक में नहीं पहुंचने वाले विधायकों में राजा वेकंटप्पा और वेंकट राव हैं.

ये भी पढ़ें: कर्नाटक: कांग्रेस की मीटिंग से 25 MLA नदारद, JDS की बैठक से 2 विधायक लापता

कर्नाटक की 224 विधानसभा सीटों में से 222 पर चुनाव हुए थे, जिसमें बीजेपी को 104, कांग्रेस को 78, जेडीएस को 38 और अन्य को दो सीटें मिली हैं. चुनाव नतीजे घोषित होने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस इस बात से खुश है कि बीजेपी को कर्नाटक में बहुमत नहीं मिला. उन्होंने कहा कि कांग्रेस 122 से 77 सीटों पर आ गई, लेकिन उसे अपनी हार नहीं दिख रही है.

कुमारस्वामी ने बीजेपी पर लगाया विधायकों को खरीदने का आरोप
येदियुरप्पा ने राज्यपाल वजुभाई वाला से मिलकर सबसे बड़ी पार्टी होने की हैसियत से सरकार बनाने का दावा पेश किया, जिसके बाद जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) के नेता एचडी कुमारस्वामी ने पत्रकार वार्ता करके सीधे तौर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. एचडी कुमारस्वामी ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी अपने पद का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं. 

उन्होंन पीएम मोदी के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा, 'ना मैं और ना ही मेरी पार्टी सत्ता चाहती है.' जेडीएस की ओर से विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद एचडी कुमारस्वामी ने आरोप लगाया कि बीजेपी ने उनकी पार्टी के विधायकों को 100 करोड़ रुपए और मंत्री पद का ऑफर दिया है. 

कुमारस्वामी ने कहा, 'जेडीएस विधायकों को 100 करोड़ रुपए का ऑफर दिया जा रहा है. यह कालाधन कहां से आ रहा है? उन्हें गरीब लोगों की मदद करनी चाहिए और वे लोग आज पैसा ऑफर कर रहे हैं. आयकर अधिकारी कहां हैं?'