close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस-जेडीएस ने जारी किया व्हिप, 'जो विधायक सत्र में गैरहाजिर रहेंगे, अयोग्य ठहराए जाएंगे'

कर्नाटक में जारी सियासी संकट के बीच, कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार के चीफ व्हिप गणेश हुक्केरी ने पार्टी विधायकों को शुक्रवार से शुरू हो मानसून सत्र में भाग लेने के लिए व्हिप जारी किया है. 

कांग्रेस-जेडीएस ने जारी किया व्हिप, 'जो विधायक सत्र में गैरहाजिर रहेंगे, अयोग्य ठहराए जाएंगे'
बागी विधायकों ने देर शाम विधानसभा अध्यक्ष से मुलाकात की...

बेंगलुरू: कर्नाटक में जारी सियासी संकट के बीच, कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार के चीफ व्हिप गणेश हुक्केरी ने पार्टी विधायकों को शुक्रवार से शुरू हो मानसून सत्र में भाग लेने के लिए व्हिप जारी किया है. हुक्केरी ने वित्त विधेयक पास कराने के लिए व्हिप जारी किया है. उन्होंने कहा कि विधानसभा में कई महत्वपूर्ण मामलों पर चर्चा की जानी है और गौरहाजिर विधायकों को 'दल बदल कानून' के तहत अयोग्य ठहराया जाएगा. 

उधर, कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने गुरुवार को कहा कि उन्हें सत्ताधारी कांग्रेस और जेडीएस के 13 विधायकों के इस्तीफे नियत फॉर्मेट में मिले हैं. कुमार ने कहा, "विधायकों ने अपना इस्तीफा मेरे कार्यालय में नियत फॉर्मेट में लिखे. मैं उन पर विचार करूंगा और उनकी बात निजी तौर पर सुनने के बाद फैसला लूंगा."

अध्यक्ष ने विधायकों से यह भी कहा है कि वे अपने विधानसभा क्षेत्र से इस्तीफे के कारण लिखित में दें और वे स्वेच्छापूर्वक ऐसा कर रहे हैं. उन्होंने कहा, "मैं शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट को सूचित करूंगा कि मैंने मामले पर कार्रवाई कानून और दिन में पूर्व में जारी अपने आदेश के अनुसार की है."

कांग्रेस-जेडीएस के 16 विधायकों के इस्तीफों से 13 महीने पुरानी गठबंधन सरकार गिरने के कगार पर पहुंच गई है. इस्तीफा देने वाले 16 विधायकों में 13 कांग्रेस से और तीन जेडीएस से हैं. यह संकट पिछले शनिवार से शुरू हुआ.