close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विश्वास मत की मांग पर सिद्धारमैया ने कहा - हमारे पास बहुमत है, बीजेपी डरी हुई है

कर्नाटक के सियासी संकट के बीच पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा कि हमारे पास बहुमत है, इसीलिए विश्वास मत की मांग की है. 

विश्वास मत की मांग पर सिद्धारमैया ने कहा - हमारे पास बहुमत है, बीजेपी डरी हुई है
कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी ने पद से इस्तीफा देने की बीजेपी की मांग खारिज कर दी...

बेंगलुरू: कर्नाटक के सियासी संकट के बीच पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा कि हमारे पास बहुमत है, इसीलिए विश्वास मत की मांग की है. इससे पहले, मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने शुक्रवार को कहा कि जेडीएस-कांग्रेस की गठबंधन सरकार के पास विधानसभा में बहुमत है और वह विश्वास मत साबित करने के लिए पूरी तरह तैयार है. 

विधानसभा के 10 दिवसीय मॉनसून सत्र के शुरू होने के साथ ही कुमारस्वामी ने राज्य विधानसभा के अध्यक्ष केआर रमेश कुमार से कहा, "मेरी सरकार के पास बहुमत है, मैं विश्वास मत साबित करने के लिए तैयार हूं. मेरा आप से निवेदन है कि इस बाबत एक तिथि और समय तय करें."

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने की विपक्षी दल बीजेपी की मांग को गुरुवार को खारिज कर दिया. बीजेपी ने यह मांग सत्तारूढ़ जेडीएस और कांग्रेस की गठबंधन सरकार के 16 विधायकों द्वारा विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार को इस्तीफा देने के बाद 'सरकार के अल्पमत में आने' के बाद की है.

 

सुप्रीम कोर्ट ने स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
उधर, सुप्रीम कोर्ट ने ने शुक्रवार को कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष के आर रमेश कुमार से कहा कि सत्तारूढ़ गठबंधन के 10 बागी विधायकों के इस्तीफों और उनकी अयोग्यता के मसले पर अगले मंगलवार तक कोई भी निर्णय नहीं लिया जाए. प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति अनिरूद्ध बोस की तीन सदस्यीय पीठ ने सुनवाई के दौरान 'महत्वपूर्ण मुद्दे उठने' का जिक्र करते हुए कहा कि वह इस मामले में 16 जुलाई को आगे विचार करेगी. शुक्रवार की स्थिति के अनुसार तब तक यथास्थिति बनाये रखी जानी चाहिए.