Covid Recovery: कोविड से रिकवर होने के बाद भूख ज्यादा लग रही है? इस संकेत को हल्के में न लें

कोरोना संक्रमण के दौरान बहुत से लोगों को गले में दर्द की वजह से निगलने में दिक्कत होती है जिस कारण उनकी भूख कम हो जाती है. तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनकी रिकवरी के बाद भूख बढ़ जाती है. ऐसा क्यों होता है, जानें.

Covid Recovery: कोविड से रिकवर होने के बाद भूख ज्यादा लग रही है? इस संकेत को हल्के में न लें
कोरोना के बाद क्यों लगती है ज्यादा भूख?

नई दिल्ली: कोरोना वायरस लोगों के शरीर (Coronavirus effect on body) पर अलग-अलग तरह से असर कर रहा है. किसी में डायबिटीज (Diabetes) की समस्या देखने को मिल रही है तो किसी को हृदय रोग (Heart disease) का मरीज बना रहा है ये वायरस तो किसी में े किडनी की गंभीर बीमारी (Kidney disease) हो रही है. इतना ही नहीं, कोरोना संक्रमण के दौरान और रिकवर होने के बाद भी जहां अधिकतर लोगों में भूख में कमी की समस्या देखने को मिल रही है. वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनकी भूख संक्रमण के दौरान या फिर बीमारी से उबरने के बाद बहुत बढ़ जा रही है (Appetite increase)और वे अधिक खा रहे हैं. 

कोरोना संक्रमण से उबरने के बाद बढ़ रही है भूख

हेल्थ एक्सपर्ट्स और डॉक्टरों की मानें तो लंबे समय तक अगर भूख बढ़ी हुई रहे तो यह डायबिटीज या फिर किसी और गंभीर बीमारी का संकेत हो सकता है. नवभारत टाइम्स की एक रिपोर्ट की मानें तो कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद ज्यादा भूख लगना या ज्यादा खाना (Overeating) भी एक बीमारी ही है और ऐसे लोगों को डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. लखनऊ के केजीएमयू के एक डॉक्टर की मानें तो चूंकि कोरोना संक्रमण के दौरान बहुत से लोगों की स्वाद और गंध लेने की क्षमता खत्म (Smell and Taste) हो जाती है. इसलिए ठीक होने के बाद जब ये दोनों समस्याएं दूर हो जाती हैं तो मरीज का दिमाग उसे ज्यादा खाने का संकेत देता है. 2-4 दिन अगर ऐसा हो तो यह सामान्य सी बात हो सकती है.

ये भी पढ़ें- कोरोना के बाद सूंघने और स्वाद लेने की क्षमता वापस लाने में मदद करेंगी ये चीजें

कमजोरी के कारण भी ज्यादा भूख लगती है

भूख बढ़ने की समस्या कोरोना के गंभीर मरीजों में नहीं बल्कि कम लक्षण वाले या बिना लक्षण वाले मरीजों (Mild Symptom or Asymptomatic) में देखने को मिलती है. इसका कारण ये है कि संक्रमण के दौरान तो शरीर वायरस से लड़ता है जिस वजह से संक्रमण से उबरने के बाद शरीर में कमजोरी आ जाती है (Weakness) और भूख भी ज्यादा लगती है. पिछले साल कोरोना वायरस की पहली लहर के दौरान भी कई मरीजों में रिकवर होने के बाद अधिक भूख लगने और ज्यादा खाने की दिक्कत देखने को मिली थी जिसकी वजह से कई मरीजों का एक महीने में ही 8 से 10 किलो तक वजन बढ़ गया था और उनमें मोटापे (Obesity) की दिक्कत हो गई थी.

VIDEO

ये भी पढ़ें- कोरोना मरीजों के लिए जोखिम भरा होता है 5 से 10 दिन का समय, रहें सतर्क

भूख लगने पर कुछ भी खा लेना वजन बढ़ने का कारण है

वजन बढ़ने और मोटापे का सबसे बड़ा कारण है भूख लगने पर कुछ भी खा लेना. लेकिन डॉक्टरों की सलाह है कि कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद भी मरीजों को अपनी डाइट का पूरा ध्यान रखना चाहिए (Follow proper diet). जहां तक संभव हो हाई प्रोटीन और फाइबर वाली चीजें ही खाएं. भूख लगने पर दाल, स्प्राउट्स, हरी सब्जियां, ताजे फल आदि का सेवन करें ताकि आप मोटापे से भी बच सकें और डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल जैसी गंभीर बीमारियों से भी.

लाइफस्टाइल से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.

देखें LIVE TV -
 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.